होम > राज्य > बिहार

गांधी मैदान ब्लास्टः एनआईए कोर्ट ने सुनाई चार को फांसी की सजा, अन्य को कैद

गांधी मैदान ब्लास्टः एनआईए कोर्ट ने सुनाई चार को फांसी की सजा, अन्य को कैद

आठ साल पहले बिहार की राजधानी पटना के गांधी मैदान में नरेंद्र मोदी की हुंकार रैली में सिलसिलेवार बम धमाके हुए थे। इस मामले में सोमवार को एनआईए की विशेष अदालत ने अपना फैसला सुनाया है।


कोर्ट ने चार आतंकी को फांसी की सजा सुनाई है जबकि दो आतंकियों को उम्र कैद की सजा सुनाई है। वहीं  दो आतंकियों को दस साल कैद की सजा और एक आतंकी को सात साल की सजा सुनाई गई है।


गिरफ्तार कुल में से 1 आरोपी की हो चुकी है मौत


पटना के गांधी मैदान सीरियल ब्लास्ट मामले में 27 अक्टूबर, 2013 को पटना के गांधी मैदान थाने में प्राथमिकी दर्ज की गई थी। इसके बाद 31 अक्टूबर, 2013 को एनआईए ने केस संभाला और एक नवंबर को दिल्ली एनआईए थाने में इसकी फिर से प्राथमिकी दर्ज की गई।


इसमें नाबालिग समेत 12 के खिलाफ आरोप पत्र दाखिल किया गया था। उनमें एक की मौत इलाज के दौरान ही हो गई थी। वहीं जुवेनाइल बोर्ड द्वारा नाबालिग आरोपित को पहले ही तीन वर्ष की कैद की सजा सुनाई जा चुकी है।