होम > राज्य > हरियाणा

Haryana : केंद्रीय विश्वविद्यालय में 100 छात्रों को UPSC exam की निशुल्क तैयारी

Haryana : केंद्रीय विश्वविद्यालय में 100 छात्रों को UPSC exam की निशुल्क तैयारी


अनुसूचित जाति के होनहार युवाओं को प्रतिष्ठित संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) व अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी में हरियाणा केंद्रीय विश्वविद्यालय (हकेवि) मदद करेगा। यह कार्य केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय के सहयोग से किया जा रहा है। विश्वविद्यालय में इस उद्देश्य से डॉ. अम्बेडकर सेंटर ऑफ एक्सीलेंस (डीएसीई) की शुरूआत हुई है।


बनारस हिंदू विश्वविद्यालय में आयोजित कार्यक्रम में उत्तर प्रदेश की राज्यपाल माननीय आनंदीबेन पटेल व सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय, भारत सरकार के मंत्री डॉ. वीरेंद्र कुमार की उपस्थिति में यह समझौता किया गया है।


विश्वविद्यालय में शुरू होने जा रहे इस सेंटर के संदर्भ में विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. टंकेश्वर कुमार ने बताया कि हरियाणा राज्य में यह केंद्र केवल हरियाणा केंद्रीय विश्वविद्यालय में खुल रहा है। इसके माध्यम से प्रति वर्ष सौ विद्यार्थियों को संघ लोक सेवा आयोग की परीक्षा हेतु तैयारी करवाई जाएगी। कुलपति ने बताया कि इस सेंटर के अंतर्गत प्रति छात्र 75000 रुपए का अनुदान प्राप्त होगा। जिसके माध्यम से प्रतियोगियों को निशुल्क कोचिंग प्रदान की जाएगी।


विश्वविद्यालय कुलपति ने बताया कि इस सेंटर के अंतर्गत 33 प्रतिशत महिला प्रतियोगियों को शामिल किया जाएगा। जिससे कि महिला सशक्तिकरण की दिशा में निर्धारित लक्ष्यों की प्राप्ति सुनिश्चित की जा सके।


अनुसूचित जाति के छात्रों को प्रशासनिक सेवाओं के लिए तैयार करने का काम किया जाएगा। इसके लिए इन छात्रों को निशुल्क कोचिंग में रहेगी। छात्रों के लिए विशेष कोचिंग की यह व्यवस्था देश भर के 31 केन्द्रीय विश्वविद्यालयों में की जा रही है। निशुल्क कोचिंग के लिए प्रवेश विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित एक प्रवेश परीक्षा के आधार पर होगा। देश के जाने माने एजुकेटर तथा सुपर 30 शिक्षा समूह के संस्थापक आनंद कुमार ने भी इस कोचिंग योजना पर अपने सकारात्मक विचार दिए हैं।


केंद्र सरकार का सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय डॉ. अंबेडकर प्रतिष्ठान के माध्यम से देश भर में डॉ. अंबेडकर उत्कृष्टता केन्द्रों की स्थापना कर रहा है। इनमें अनुसूचित जाति के विद्यार्थियों को प्रशासनिक सेवा परीक्षाओं के लिए निशुल्क कोचिंग दी जाएगी।


हरियाणा केंद्रीय विश्वविद्यालय के प्रोग्राम कॉर्डिनेटर डॉ. अंतरेश कुमार ने बताया कि इस योजना का उद्देश्य प्रमुख रूप से अनुसूचित जाति के विद्यार्थियों को यूपीएससी व अन्य महžवपूर्ण प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी हेतु उत्तम श्रेणी की सुविधाएं प्रदान करना है। उन्होंने बताया कि इस योजना के अंतर्गत 31 केंद्रीय विश्वविद्यालयों में इस तरह के इस तरह के सेंटर खोले गए हैं। जिनमें हरियाणा राज्य के संदर्भ में हरियाणा केंद्रीय विश्वविद्यालय का केंद्र शामिल है।