होम > राज्य > हरियाणा

कोविड का XE वेरिएंट को लेकर अलर्ट, गुरुग्राम स्वास्थ्य विभाग ने जारी किए नए दिशानिर्देश

कोविड का XE वेरिएंट को लेकर अलर्ट, गुरुग्राम स्वास्थ्य विभाग ने जारी किए नए दिशानिर्देश

कोरोना वायरस संक्रमण के मामले एक बार फिर बढने लगे है। इसी बीच नए वेरिएंट ने भी दस्तक दे दी है। मुंबई में देश में कोरोना वायरस एक्सई का पहला मामला सामने आने के बाद, गुरुग्राम जिला स्वास्थ्य विभाग ने यहां नए रिपोर्ट किए गए कोविड मामलों की निगरानी के लिए निजी और सरकारी स्वास्थ्य सुविधाओं के लिए निर्देश जारी किए हैं।


हालांकि, नए वेरिएंट का अभी तक कोई मामला सामने नहीं आया है, गुरुग्राम के मुख्य चिकित्सा अधिकारी (सीएमओ), वीरेंद्र यादव ने सभी संबंधित अधिकारियों को नए वेरिएंट के बारे में एक सलाह जारी की है।


स्वास्थ्य अधिकारियों ने बताया कि विभाग ने नए वेरिएंट से निपटने के लिए कार्य योजना तैयार की है। भीड़-भाड़ वाली जगहों पर सघन जांच अभियान चलाया जाएगा और निजी स्वास्थ्य सुविधाओं को नए वेरिएंट का कोई संदिग्ध मामला मिलने पर विभाग को अपडेट करना होगा।


अधिकारियों ने कहा कि नया म्यूटेंट कोविड के किसी भी स्ट्रेन की तुलना में अधिक संक्रमणीय हो सकता है।


यादव ने मीडिया से कहा, "हमने निजी स्वास्थ्य केंद्रों को उन मरीजों पर नजर रखने और तत्काल स्वास्थ्य विभाग को सूचित करने का निर्देश दिया है, जिनका विदेश यात्रा का इतिहास है। रैपिड एंटीजन जांच पर जोर दिया जाएगा। संबंधित अधिकारियों को आवश्यक निर्देश जारी किए गए हैं।"


यादव ने कहा कि सभी सरकारी और निजी अस्पतालों को कोविड संक्रमण को रोकने के लिए आवश्यक कदम उठाने का निर्देश दिया गया है। शुक्रवार को, शहर ने 61 नए कोविड मामले दर्ज किए, जिससे गुरुग्राम में सक्रिय मामलों की कुल संख्या बढ़कर 270 हो गई है।


स्वास्थ्य विभाग ने कहा कि कम लोग अब फेस मास्क का उपयोग कर रहे हैं जो मामलों में वृद्धि का एक और कारण है। 2 अप्रैल को, हरियाणा सरकार ने सार्वजनिक स्थानों और सरकारी कार्यालयों में अपना मास्क जनादेश हटा लिया था।