होम > राज्य > पंजाब

पंजाब में गर्म सियासी माहौल के बीच मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह ने की प्रधानमंत्री से मुलाकात

पंजाब में गर्म सियासी माहौल के बीच मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह ने की प्रधानमंत्री से मुलाकात

नई दिल्ली | पंजाब का मुख्यमंत्री बनने के बाद पहली शिष्टाचार बैठक में चरणजीत सिंह चन्नी शुक्रवार को 7 लोक कल्याण मार्ग पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात करने पहुंचे।  ये बैठक ऐसे समय में हुई जब कांग्रेस पार्टी पंजाब में वरिष्ठ नेताओं की मानाने में लगी हुई है।  हालांकि, मुख्यमंत्री चन्नी के राज्य का कार्यभार संभालने के बाद, प्रधान मंत्री के साथ ये शिष्टाचार यात्रा, राज्य में नवीनतम विकास की पृष्ठभूमि बनाने में बेहद महत्वपूर्ण मानी जा रही है।  

चरनजीत चन्नी ने प्रधानमंत्री मोदी से लगभग 45 मिनट तक मुलाकात की। इस दौरान उन्होंने किसानों के मुद्दे से लेकर भारत-पाकिस्तान कॉरिडोर को खोलने और धान की खरीद के मसले पर विचार विमर्श किया। प्रधानमंत्री मोदी से मुलाकात के बाद चन्नी ने कहा, हमारी अच्छे माहौल में बातचीत हुई। मैंने उनसे तीनों कृषि कानूनों का झगड़ा खत्म करने के लिए भी कहा है। उन्होंने कहा कि वो भी इसका हल ढूंढना चाहते हैं। मैंने किसानों से उन्हें बात शुरू करने की बात की। मैंने कोविड की वजह से बंद हुए भारत-पाकिस्तान कॉरिडोर को तुरंत खोलने के लिए कहा है ताकि श्रद्धालु वहां जाकर अपनी श्रद्धा सुमन भेंट कर सकें। 

पंजाब में धान की खरीद 1 अक्टूबर से शुरू होती है लेकिन इस बार केंद्र सरकार ने इसे 10 अक्टूबर तक बढ़ा दिया है। केंद्र ने गुरुवार को पंजाब और हरियाणा में खरीफ धान की खरीद 11 अक्टूबर तक के लिए स्थगित कर दी क्योंकि हाल ही में हुई भारी बारिश के कारण फसल की परिपक्वता में देरी हुई है। मैंने इसे अभी शुरू कराने का अनुरोध किया है। गौरतलब है कि कांग्रेस के वरिष्ठ नेता चन्नी ने पंजाब के मुख्यमंत्री बनने के बाद पहली बार प्रधानमंत्री मोदी से मुलाकात की है।

पंजाब कांग्रेस इस समय संकट का सामना कर रही है क्योंकि अमरिंदर सिंह के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफ़ा देने से भी पंजाब में मुख्यमंत्री और पार्टी अध्यक्ष सिद्धू के विवाद का कोई समाधान नहीं हुआ है। इस दौरान नवजोत सिंह सिद्धू ने भी पार्टी के अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था। हालाँकि गुरुवार को चरणजीत चन्नी ने सिद्धू से मुलाकात की और अब तक मतभेदों को दूर कर लिया गया है, फिलहाल सिद्धू पार्टी अध्यक्ष बने रहेंगे।