होम > राज्य > उत्तर प्रदेश / यूपी

कानपुर और कन्नौज के बाद लखनऊ के रकाबगंज इलाके में 34 घंटे से जारी है छापेमारी

कानपुर और कन्नौज के बाद लखनऊ के रकाबगंज इलाके में 34 घंटे से जारी है छापेमारी

कानपुर और कन्नौज के बहुचर्चित कारोबारी पीयूष जैन पर शिकंजा कसने के बाद आयकर विभाग की अब पुराने लखनऊ के एक बड़े सुपारी व्यापारी के ठिकानों पर छापेमारी चल रही है। यहां रकाबगंज इलाके में नरेंद्र अग्रवाल के घर पर शनिवार देर रात से आयकर विभाग की टीम मौजूद है। अग्रवाल इलाके के बड़े सुपारी बताए जाते हैं। हालांकि सूत्रों के मुताबिक, उनके हवाला कारोबार से जुड़े का शक है।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक, अग्रवाल के ठिकानों से अब तक करीब तीन करोड़ से अधिक की रकम जब्त की जा चुकी है। आयकर विभाग की टीम ने बीते शनिवार को यहां रकाबगंज के रुकमणी धर्मशाला के पास रहने वाले अग्रवाल के घर और दुकान पर छापेमारी शुरू की थी, जो अब तक जारी है। आयकर के करीब दो दर्जन से ज़्यादा अधिकारी इस मामले की जांच पड़ताल कर रहे हैं और अग्रवाल के घर के बाहर अब भी पुलिस फ़ोर्स मौजूद है। जांच में टैक्स चोरी के तमाम दस्तावेज बरामद होने की संभावना जताई जा रही है।

बता दें कि आयकर अफसरों की टीम ने 21 जनवरी को गोंडा में रेड मारकर 65 लाख रुपये की नकदी बरामद की थी। सूत्रों के मुताबिक, वहीं से पूछताछ में नरेंद्र अग्रवाल का नाम सामने आया। पकड़े गए लोगों से पूछताछ में पता चला कि यह रकम लखनऊ से लाई गई है। इसके बाद आयकर अफसरों ने रकाबगंज स्थित अग्रवाल के ठिकानों पर रेड में भारी तादाद में कैश बरामद किया। इतनी ज्यादा नकदी मिलने अधिकारियों ने उससे इसका स्रोत पूछा, जिसका सबूत वह नहीं दे सका, जिसके बाद यह रकम जब्त कर ली गई और आगे की तफ्तीश जारी है।