होम > राज्य > उत्तर प्रदेश / यूपी

विकास के साथ पर्यावरण संरक्षण पर भी होगा सुधार, करती है वादा योगी सरकार

विकास के साथ पर्यावरण संरक्षण पर भी होगा  सुधार, करती है वादा योगी सरकार

योगी सरकार इस साल वृक्षारोपण का महाअभियान चलाएगी। इसके लिए वन विभाग ने कमर  कस लिया है। योगी सरकार ऐसे पौधों को लगाने पर जोर दे रही है। जो हवा को अधिक शुद्ध  करे , फलदार हो और औषधीय गुण वाले हो । वाराणसी मंडल में इस बार 1 करोड़ 72 लाख पौधे लगाने की तैयारी है। अकेले वाराणसी में 20 लाख 77 हज़ार पौधे रोपित किए जाएंगे । सभी सरकारी विभाग इस महाअभियान में शामिल होंगे व पौधे लगाएंगे। 

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने विकास के साथ ही पर्यावरण संरक्षण का भी ध्यान रख रही है।  वाराणसी की आबोहवा को सुधारने के लिए योगी सरकार ने फुल प्रूफ प्लान तैयार कर लिया है। सरकार वृक्षारोपण का महाअभियान चलने जा रही  है। इससे  वायुमण्डल में ऑक्सीजन की शुद्ध मात्रा को बढ़ाने व वातावरण को संरक्षित करने में मदद मिलेगी। वाराणसी सर्किल  के  मुख्य वन संरक्षक व प्रभारी वन संरक्षक प्रमोद  गुप्ता ने बताया कि फ़लदार व ऑक्सीजन देने वाले पौधों को अधिक लगाने की योजना है। सहजन,पीपल,पाकड़ ,बरगद,अर्जुन,जामुन आवला ,अमरुद ,आम ,सागौन ,शीशम आदि के ज़्यादा पौधों के रोपण की तैयारी है। अकेले वाराणसी में क़रीब  20 लाख 77 हज़ार  पौधे लगाने का लक्ष्य है । गाज़ीपुर में क़रीब  41 लाख 24 हज़ार,जौनपुर में लगभग 53 लाख 12 हज़ार  ,चंदौली में करीब 57 लाख 32 हज़ार  पौधे लगाए जाने का लक्ष्य रखा गया है। गाज़ीपुर और जौनपुर में अमरुद के पौधों की ज्यादा मांग है। सभी जिलों को मिलाकए वाराणसी मंडल में करीब 1 करोड़ 72 लाख पौधे लगाए जाने की महायोजना है।मानसून की शुरुआत के साथ ही वाराणसी में पौधारोपण का महाभियान शुरू होगा।   

 वन विभाग के अलावा 26 अन्य विभाग वृक्षारोपण करने में भाग लेंगे। किस विभाग को कितने पौधे लगाने  का लक्ष्य है ,उसकी सूची भी वन विभाग ने बना लिया है। इस साल पौधा रोपण में कई प्रजातियों के पौधे लगाने की योजना है। पशुपालन विभाग चारे वाले पौधों की मांग करता है। बिजली विभाग काम ऊंचाई वाले पौधों को लगाना चाहता है। जनता की सहभागिता के लिए पौधे लगाने के इच्छुक जनता को भी पौधे देने की योजना बनाई जा रही है। जिससे अधिक से अधिक वृक्षारोपण हो सके और पर्यावरण संरक्षण में मदद मिले।