होम > राज्य > उत्तर प्रदेश / यूपी

यूपी में आगामी विधानसभा चुनावों को लेकर बीजेपी की 7 घंटे तक चली बैठक, हुए कई अहम फैसले

यूपी में आगामी विधानसभा चुनावों को लेकर बीजेपी की 7 घंटे तक चली बैठक, हुए कई अहम फैसले

नई दिल्ली | उत्तर प्रदेश में बीजेपी कुछ भी भाग्य के हाथ छोड़ने के मूड में नहीं दिख रही है।  प्रदेश में पिछली बार से ज्यादा सीटें और बेहतर प्रदर्शन करने के लिए भारतीय जनता पार्टी के दिग्गज नेता रणनीति पैर विचार कर रहे हैं। इसी के चलते भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा की अध्यक्षता में उत्तर प्रदेश को लेकर सोमवार को हुई बड़ी बैठक आधी रात तक चली, जिसमें उत्तर प्रदेश को लेकर कई बड़े फैसले किए गए। 

सोमवार को लगभग 7 घंटे तक चली बैठक में चुनावी प्रचार की पूरी रूप रेखा पर चर्चा हुई। भाजपा के एक नेता ने बताया कि उत्तर प्रदेश सरकार और केंद्र सरकार की उपलब्धियों को लेकर हम जनता के बीच जाएंगे। बैठक में इस बात को लेकर भी चर्चा हुई कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की लोकप्रियता का अधिक से अधिक लाभ कैसे उठाया जाए।

भाजपा के कोर एजेंडे राम मंदिर निर्माण को लेकर भी बैठक में विस्तार से चर्चा हुई। इसे भाजपा की बड़ी उपलब्धि मानते हुए यह तय किया गया कि मतदाताओं को इससे जुड़ी सारी जानकारियां बताई जाएगी। राज्य में चुनावी प्रचार को लेकर एक विस्तृत प्रजेंटेशन भी दिया गया। इसमें सरकार की उपलब्धियों और चुनावी मुद्दों से जुड़े अलग-अलग एंगल के विज्ञापनों को भी दिखाया गया।

योगी सरकार की सबसे बड़ी उपलब्धि कानून व्यवस्था को भी प्रमुखता से लेकर जनता के बीच जाने का फैसला किया गया और इसके साथ ही बैठक में अगले 100 दिनों तक 100 कार्यक्रम करने की रूपरेखा भी तय की गई।

दिल्ली में राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा की अध्यक्षता में सोमवार को हुई इस बैठक में भाजपा के राष्ट्रीय संगठन महासचिव बीएल संतोष, चुनाव प्रभारी केंद्रीय मंत्री धर्मेद्र प्रधान , प्रदेश प्रभारी राधा मोहन सिंह के अलावा यूपी प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह और प्रदेश संगठन महासचिव सुनील बंसल मौजूद रहे।

इससे पहले रविवार को लखनऊ में चुनाव प्रभारी केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने राज्य के नेताओं के साथ बैठक कर चुनावी कार्यक्रमों की रूप रेखा तय की थी, जिस पर सोमवार को 11, अशोक रोड , दिल्ली (भाजपा के वॉर रूम) में हुई इस बड़ी बैठक में मुहर लगाई गई।

पार्टी ने अगले 100 दिनों में समाज के सभी वर्गों, जातियों और समूहों तक अलग-अलग कार्यक्रमों के जरिए पहुंचने की योजना बनाई है। इसके लिए अगले 100 दिनों में लगभग 100 कार्यक्रम करने की योजना बनाई गई हैं

दरअसल, 2017 के विधानसभा चुनाव में 3.59 करोड़ के लगभग वोट पाकर अपने सहयोगी दलों के साथ मिलकर 325 सीटों पर जीत हासिल करने वाली भाजपा ने इस बार 4 करोड़ वोट हासिल कर 350 से ज्यादा सीटें जीतने का लक्ष्य तय किया हुआ है। इसे लेकर पार्टी ने हर बूथ पर 100 नए सदस्य बनाने का फैसला कर रखा है। इस लक्ष्य को कामयाब बनाने के लिए भी पार्टी ने अगले 100 दिनों में पन्ना प्रमुख सम्मेलन, हर बूथ पर कार्यक्रम, अलग-अलग जातियों और वर्गों को लेकर सम्मेलन, मोदी और योगी सरकार की योजनाओं से लाभान्वित होने वाले लोगों का सम्मेलन सहित कई कार्यक्रमों की रूपरेखा तैयार की है, जिसे बैठक में मंजूरी दी गई।

आने वाले दिनों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी , अमित शाह समेत दिग्गज नेताओं के प्रदेश के दौरे को लेकर भी बैठक में चर्चा की गई। भाजपा के एक नेता ने बताया कि बैठक में लिए गए महत्वपूर्ण फैसलों पर अगले सप्ताह (18 अक्टूबर ) होने वाली राष्ट्रीय पदाधिकारियों की बैठक में भी चर्चा की जाएगी। अगले सप्ताह होने वाली इस बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी मौजूद रहेंगे।

0Comments