होम > राज्य > उत्तर प्रदेश / यूपी

यूपी में आगामी चुनावों की तैयारियों के लिए मुख्य निर्वाचन अधिकारी की बैठक

यूपी में आगामी चुनावों की तैयारियों के लिए मुख्य निर्वाचन अधिकारी की बैठक

लखनऊ | उत्तर प्रदेश में अगली वर्ष की शुरआत में होने वाले विधान सभा चुनावों के मद्देनज़र प्रदेश में अपर मुख्य निर्वाचन अधिकारी डा ब्रह्म राम देव तिवारी ने विधानसभा निर्वाचन नामावलियों का विशेष पुनरीक्षण - 2022 तथा स्वीप कार्यक्रम को अधिक प्रभावी बनाए जाने के संबंध में प्रदेश के समस्त उप जिला निर्वाचन अधिकारियों, सभी जिलों के स्वीप नोडल अधिकारियों तथा स्वीप टीम के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से एक वर्कशाप का आयोजन किया।

बैठक में 'विधानसभा निर्वाचन नामावलियों का विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण - 2022' से संबंधित आयोग द्वारा जारी कार्यक्रम, जिला निर्वाचन अधिकारी की वेबसाइट की अद्यतन स्थिति, सोशल मीडिया फेसबुक, यूट्यूब, इंस्टाग्राम आदि  लाइव चलाने के संबंध में चर्चा की गई। 

अपर मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने निर्देश दिया कि 01 नवंबर, 2021 को मतदाता सूची के प्रकाशन कराए जाने के संबंध में समस्त तैयारियां पूरी कर ली जाएं। उन्होंने कहा कि आयोग द्वारा विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण - 2022 का कार्यक्रम घोषित कर दिया गया है, जिसके अंतर्गत 01 नवंबर को सूची का प्रकाशन तथा 01 नवंबर 2021 से 30 नवंबर 2021 तक दावे - आपत्तियां प्राप्त की जाएंगी। 

उन्होंने समस्त उप जिला निर्वाचन अधिकारियों को निर्देशित किया किया इसके लिए सभी बीएलओ को मतदाता पुनरीक्षण कार्यक्रम के प्रति लोगों को जानकारी प्रदान करने के लिए निर्देशित किया जाए। इसके अतिरिक्त राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों तथा मीडिया के प्रतिनिधियों के साथ बैठक कर मतदाता पुनरीक्षण कार्यक्रम की जानकारी देकर अधिक से अधिक प्रचार-प्रसार कराया जाए। यह सुनिश्चित किया जाय कि कोई भी अर्ह मतदाता का नाम मतदाता सूची में शामिल होने से न छूटे।

अपर मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि सभी जनपदों में स्वीप कोर कमेटी की बैठक अवश्य करायी जाए तथा मतदाता जागरूकता कार्यक्रम को अधिक प्रभावी बनाया जाये। जिन जिलों में स्वीप, दिव्यांग मतदाता तथा मतदाता साक्षरता के संबंध में समिति का गठन नहीं हुआ है वहां शीघ्र समिति का गठन कर बैठक कराना सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने निर्देश दिया कि आयोग द्वारा मतदाताओं की सुविधा के लिए बनाए गए राष्ट्रीय मतदाता सेवा पोर्टल (एनवीएसपी), वोटर हेल्पलाइन ऐप तथा वोटर पोर्टल एवं दिव्यांगजनों के लिए बनाए गए ‘‘पर्सन विद् डिस्एबिलिटीज’’ (पीडब्ल्यूडी) ऐप का प्रचार - प्रसार अधिक से अधिक किया जाए। 

01 जनवरी 2022 को 18 वर्ष की आयु पूर्ण करने वाले नए मतदाताओं को पहले से ही चिन्हित कर उनका नाम मतदाता सूची में शामिल किया जाए। मतदाता सूची त्रुटिहीन एवं शुद्ध बनायी जाए। उन्होंने कहा कि सोशल मीडिया पर अधिक से अधिक सक्रियता बढ़ाई जाए तथा जनपद की निर्वाचन संबंधी वेबसाइट को भी यूजर फ्रेन्डली बनाया जाये, जिससे निर्वाचन संबंधी सभी गतिविधियां एवं सूचनाएं स्पष्ट रूप नियमित प्रकाशित की जाती रहें।

इस अवसर पर संयुक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी श्री अमरीश कुमार श्रीवास्तव, सहायक मुख्य निर्वाचन अधिकारी श्री अरविंद कुमार पांडे उपस्थित रहे।

0Comments