होम > राज्य > उत्तर प्रदेश / यूपी

पर्यटन विकास से संबंधित अभिलेख, फोटो आदि तत्काल उपलब्ध कराने के निर्देश : जयवीर सिंह

पर्यटन विकास से संबंधित अभिलेख, फोटो आदि तत्काल उपलब्ध कराने के निर्देश : जयवीर सिंह

उत्तर प्रदेश के पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री जयवीर सिंह ने पर्यटन मंत्रालय भारत सरकार की स्वदेश दर्शन स्कीम, रामायण सर्किट योजना के अंतर्गत अयोध्या का पर्यटन विकास, बुद्धिष्ठ सर्किट योजना के अंतर्गत श्रावस्ती एवं कपिलवस्तु का पर्यटन विकास से संबंधित क्लोजर रिपोर्ट, वीडियो, व्यय का वर्षवार विवरण, अन्य अभिलेख, फोटो आदि तत्काल उपलब्ध कराने के निर्देश दिये हैं।

उन्होंने उप निदेशक पर्यटन अयोध्या, देवीपाटन तथा बस्ती मण्डल को निर्देश दिये हैं कि केन्द्र पोषित योजनाओं के अंतर्गत आपके परिक्षेत्र में पर्यटन मंत्रालय भारत सरकार की स्वदेश दर्शन स्कीम के रामायण सर्किट योजना के अंतर्गत अयोध्या का पर्यटन विकास, बुद्धिष्ट सर्किट के अंतर्गत श्रावस्ती एवं कपिलवस्तु तथा स्पिरीचुअल सर्किट-4 के अंतर्गत देवीपाटन मंदिर एवं वटवासिनी मंदिर का पर्यटन विकास, संस्कृति मंत्रालय भारत सरकार की म्यूजियम ग्राण्ट स्कीम के अंतर्गत रामकथा संग्रहालय में डिजिटल इन्टरवेंशन की योजना संचालित की जा रही है।

इन योजनाओं के क्रियान्वयन हेतु भारत सरकार द्वारा वांछित सूचनायें, अभिलेख आदि उपलब्ध कराये जाने के निर्देश निदेशालय स्तर पर संपन्न हुई विभिन्न बैठकों के अलावा लिखित एवं मौखिक रूप से दिये गये थे। किन्तु अपेक्षित सूचनायें अभी अप्राप्त हैं। इसलिए समस्त योजनाओं के बारे में वांछित अभिलेख की मांग की गयी है। 

मंत्री जयवीर सिंह के इन निर्देशों की जानकारी पर्यटन निदेशक उ0प्र0  प्रखर मिश्र ने देते हुए बताया कि अयोध्या, देवीपाटन तथा बस्ती मण्डल के उपनिदेशकों को विगत 14 नवम्बर, 2022 को पुनः पत्र भेजा गया है।