होम > राज्य > उत्तर प्रदेश / यूपी

कोई मुख्यमंत्री चुनने का नहीं है बल्कि ये चुनाव यूपी के स्वर्णिम भविष्य का चुनाव है: अमित शाह

कोई मुख्यमंत्री चुनने का नहीं है बल्कि ये चुनाव यूपी के स्वर्णिम भविष्य का चुनाव है: अमित शाह


उत्तर प्रदेश में चुनावी बिगुल बज चुका है और उत्तर प्रदेश में 7 चरणों में चुनाव होंगे जिसको लेकर सभी पार्टियां अपनी अपनी तैयारियों में जुट गई हैं। वहीं चुनाव में धार देने के लिए गुरुवार को ब्रज में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह श्रीकृष्ण की नगरी मथुरा पहुंचे। इस दौरान गृह मंत्री ने कहा कि 19 में सब हमारे खिलाफ इक्कठा हो गए हमने तब कहा सब से 2-2 हाथ हो जाये तब यूपी की जनता ने भरपूर प्यार दिया दोनों हाथ से हमारी झोली भर दी।

गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि यूपी आगे बढ़ रहा है, शिक्षा, उद्योग, अर्थव्यवस्था मजबूत हो रही है। लेकिन सपा, बसपा और जो कुछ चलाया यहां आप लोगों ने 20 साल वो गढ़े भरने में वक़्त लगेगा। शाह ने कहा कि जो अपना परिवार और पार्टी ठीक से नहीं चला सकता वो उत्तर प्रदेश जैसे महत्वपूर्ण राज्य में सरकार क्या चलाएगा। ये चुनाव कोई विधायक, कोई मंत्री और कोई मुख्यमंत्री चुनने का नहीं है बल्कि ये चुनाव यूपी के स्वर्णिम भविष्य का चुनाव है।

आज आजम खान, अतीक अहमद सब जेल में हैं और इतने मुकदमें हैं उनपर की एक नोटबुक भी पूरा नहीं कर सकता है। शाह ने आगे कहा कि ये रचनात्मक वोट का चुनाव है। सकारात्मक वोट मांगने आये हैं। शाह ने कहा कि पिछड़ा वर्ग आयोग कौन दिया? ये सालों पुरानी मांग है जो नरेंद्र मोदी जी ने पूरी की ये क्या पिछड़ों की बात करेंगे। अमित शाह ने आगे कहा कि कल ही कल्याण सिंह जी को पद्म पुरस्कार दिया जिन्होंने पहली बार सुशासन का कॉन्सेप्ट दिया। नीट में ओबीसी को रिजर्वेशन मोदी जी ने दिया।

गृह मंत्री अमित शाह ने मथुरा में 'प्रभावी मतदाता संवाद' कार्यक्रम को संबोधित किया। इस दौरान अमित शाह ने समाजवादी पार्टी के वादों पर टिप्पणी की। सपा के मुफ्त बिजली के वाद पर बीजेपी नेता ने कहा 'उत्तर प्रदेश में ये कहते हैं कि मुफ्त बिजली देंगे। अरे भाई अखिलेश, आप तो बिजली ही नहीं दे पाए, मुफ्त की क्या बात कर रहे हो आप। जो बिजली नहीं दे पाया, वो बिजली मुफ्त दे पाएगा क्या?'