होम > राज्य > उत्तर प्रदेश / यूपी

जानिए, उत्तर प्रदेश के किसानों के लिए क्या है योगी सरकार की ख़ास रणनीति

जानिए, उत्तर प्रदेश के किसानों के लिए क्या है योगी सरकार की ख़ास रणनीति

लखनऊ। विधानसभा चुनाव के मद्देनजर उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी नेतृत्व वाली योगी सरकार ने किसानों के लिए खास रणनीति तैयार की है। भाजपा संगठन किसान चौपाल लगाकर किसानों से संवाद कर सरकार की योजनाओं की जानकारी देगा तो वहीं योगी सरकार  ने अधिकारियों को निर्देश दिया है की बाढ़ और बारिश से जो फसल बर्बाद हुई है, उसकी रिपोर्ट तैयार कर एक सप्ताह में किसानों जल्द मुआवजा दिलाने का काम करें।

सरकार और संगठन के बीच हुई बैठक में फैसला लिया गया है कि 56 हजार ग्राम पंचायतों में किसान चौपाल का आयोजन किया जाएगा जिसमें विधायक, सांसद और मंत्री शिरकत कर सरकार द्वारा उनके लिए किए गए कार्यो की जानकारी देंगे।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस संबंध में उच्च स्तरीय बैठक कर अधिकारियों को निर्देश दिया है कि वह बारिश से जिन किसानों की फसल बर्बाद हुई है उसका आकलन करें और उन्हें 1 सप्ताह के भीतर मुहावरा उपलब्ध कराएं, इसके लिए उन्होंने कोई भी कोताही न बरतने के निर्देश दिए हैं।

लखीमपुर हिंसा के बाद विपक्ष अब किसानों को अपने पाले में करने की हर कोशिश कर रहा है। प्रियंका गांधी लखीमपुर हिंसा को लेकर किसानों के साथ लगातार संवेदना जता रही हैं और भाजपा पर हमलावर हैं। वहीं अखिलेश यादव, आम आदमी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी भी किसानों का मुद्दा उठाकर उनका वोट हासिल करने का प्रयास कर रही है। लखीमपुर खीरी हिंसा के बाद विपक्ष जिस तरह से किसानों के भीतर अपनी पैठ जमाने में लगा हुआ है, उससे निपटने के लिए सरकार ने यह तैयारी की है।

बारिश और बाढ़ से हुई किसानों की फसल के नुकसान पर भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वंत्रत देव सिंह ने कहा है 'सभी प्रकार की कृषि उपज के नुकसान की भरपाई सरकार करेगी। राजस्व और कृषि विभागों को एक दूसरे के समन्वय से काम को सर्वोच्च प्राथमिकता पर पूरा करने को कहा गया है। उत्तर प्रदेश भाजपा ने भी 15 से 30 अक्टूबर के बीच सभी 56,000 ग्राम पंचायतों में 'किसान चौपाल' आयोजित करने का निर्णय लिया है'


योगी सरकार ने गन्ना किसानों को दी राहत, बढ़ाया मूल्य

योगी सरकार ड्रैगन फ्रूट की खेती के लिए देगी किसानों को अनुदान


0Comments