होम > राज्य > उत्तर प्रदेश / यूपी

आस्था व श्रद्धा का केंद्र अमेठी जनपद का माता मवई धाम

आस्था व श्रद्धा का केंद्र अमेठी जनपद का माता मवई धाम

माता मवई धाम उत्तर प्रदेश के गौरीगंज में अमेठी जिला मुख्यालय के पास रायबरेली सुल्तानपुर रोड के जेठू मवई गांव में देवी मां दुर्गा जी को समर्पित एक हिंदू मंदिर है। यह मंदिर राज्य की राजधानी लखनऊ से लगभग 125 किलोमीटर, नई दिल्ली से 550 किलोमीटर और अयोध्या से 100 किलोमीटर दूर है। मां दुर्गा को समर्पित यह भव्य मंदिर लोगों की आस्था और आध्यात्म का केंद्र है। क्षेत्र के जेठू मवई गांव में चार दशक पूर्व स्थापित माता मवई धाम श्रद्धालुओं की आस्था का केंद्र बना हुआ है। नवरात्रों के दौरान यहाँ पूजा में भाग लेने के लिए देश भर से और यहाँ तक कि विदेशों से भी भक्त आते हैं।

मान्यता है कि अमेठी जनपद के जेठू मवई गांव में रामबख्श सिंह की पत्‍‌नी मालती देवी पर भर राजघराने की कुलदेवी मां दुर्गा ने कृपादृष्टि की। जेठू मवई गांव के दक्षिण में भर राजाओं के किले के अवशेष टीले के रूप में आज भी मौजूद हैं। मालती देवी ने अपने घर के सामने एक छोटे से मंदिर का निर्माण कराकर देवी मां दुर्गा की स्थापना की। आसपास के लोग कष्ट निवारण के लिए धीरे-धीरे मां दुर्गा के दरबार में आने लगे। यहाँ आने वाले लोगों की मनोकामनाये पूर्ण होने पर मंदिर की ख्याति दूर-दूर तक फैलने लगी। देश के कोने कोने से बड़े-बड़े व्यवसायी मां के दर्शन एवं आराधना हेतु जेठू मवई गांव आने लगे। भक्तों ने इस स्थान पर भव्य एवं विशाल मंदिर का निर्माण कराया। मंदिर में मां दुर्गा की अति मनोहारी संगमरमर की प्रतिमा स्थापित है। मंदिर के दक्षिण पूर्व में मंदिर का निर्माण कर हनुमान जी की प्रतिमा भी स्थापित की गई है।

गौरीगंज, अमेठी सड़क, ट्रेन और हवाई मार्ग से देश के प्रमुख शहरों से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है। अमेठी एक महत्वपूर्ण रेलवे स्टेशन है जहां देश के सभी प्रमुख शहरों से ट्रेनें आती हैं। फुरसतगंज हवाई अड्डा अमेठी जिला मुख्यालय से 25 किलोमीटर और चौधरी चरण सिंह अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा, लखनऊ 125 किलोमीटर की दूरी पर है।