होम > राज्य > उत्तर प्रदेश / यूपी

सिंगापुर की अधिक से अधिक औद्योगिक कम्पनियॉ उ0प्र0 में निवेश को इच्छुक

सिंगापुर की अधिक से अधिक औद्योगिक कम्पनियॉ उ0प्र0 में निवेश को इच्छुक

उत्तर प्रदेश के नगर विकास एवं ऊर्जा मंत्री  ए0के0 शर्मा से सिंगापुर के फर्स्ट सिक्रेटरी सिंगापुर हाईकमिश्नर इन इंडिया (पॉलिटिकल) मि0 अब्रॉहम टेन ने उनके 14 कालिदास आवास पर मुलाकात की। इस दौरान उन्होंने उ0प्र0 में निवेश को लेकर तथा 10 से 12 फरवरी को होने वाली ग्लोबल इन्वेटर्स समिट में भागीदार बनने के संबंध में भी चर्चा की।

मि0 टेन ने कहा कि सिंगापुर को बहुत खुशी है कि वह यूपी ग्लोबल इन्वेटर्स समिट का पहला पार्टनर कन्ट्री है और अधिक से अधिक संख्या में उनकी औद्योगिक कम्पनियॉ उ0प्र0 में निवेश को इच्छुक हैं। भारत में उ0प्र0 सबसे तेज गति से बढ़ती हुई अर्थव्यवस्था है। हमारा देश प्रदेश के विकास में सहयोग करने के लिए तैयार है। उन्होंने कहा कि हमारी कम्पनियॉ स्पेस मैनेजमेंट, नगर विकास, ग्रीन एनर्जी, डॉटा सेंटर, इन्डस्ट्रियल पार्क, आईटी पार्क, सस्टेनेबल इन्फ्रास्ट्रक्चर में उ0प्र0 में निवेश करेंगी।

नगर विकास मंत्री ने कहा कि उ0प्र0 के आर्थिक और वाणिज्यिक विकास में सिंगापुर के भागीदार बनने से चार चॉद लगेंगे। सिंगापुर से आने वाले निवेश एवं कम्पनियॉ प्रदेश के औद्योगिक विकास एवं अन्य विकास कार्यों में अपना अहम योगदान देंगे। इस पर उन्होंने अपनी सहमति दी है।

मंत्री ए0के0 शर्मा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के वैश्विक प्रतिष्ठा के कारण तथा मुख्यमंत्री योगी के कुशल नेतृत्व में प्रदेश की छवि बदली और चौमुखी विकास हो रहा है। दुनिया भर के निवेशक आज प्रदेश में निवेश के लिए तत्पर हैं। दक्षिण भारत की तरह उत्तर भारत में भी औद्योगीकरण बढ़ रहा है। उन्होंने सिंगापुर की कम्पनियों को प्रदेश में निवेश करने के लिए आमंत्रित किया और कहा कि प्रदेश आपके घर जैसा है, यहां पर कुछ भी असुविधा नहीं होगी।