होम > राज्य > उत्तर प्रदेश / यूपी

लखनऊ में तीन जून को ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी का उद्घाटन करेंगे पीएम नरेन्द्र मोदी करेंगे

लखनऊ में तीन जून को ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी का उद्घाटन करेंगे पीएम नरेन्द्र मोदी करेंगे

उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने अपने दूसरे कार्यकाल की पहली ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी तय कर ली है। लखनऊ में तीन जून को ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी का उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी करेंगे। इस दौरान देश के नामचीन उत्तर उद्योगपतियों की मौजूदगी में प्रदेश में 75 हजार करोड़ से अधिक की योजनाओं का शिलान्यास तथा लोकार्पण भी होगा।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी तीन जून को लखनऊ में उत्तर प्रदेश सरकार की ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी का उद्घाटन करेंगे। 16 मई को लखनऊ में सीएम के सरकारी आवास पर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार के मंत्रियों को सुशासन का पाठ पढ़ाने के साथ ही रात्रि भोज में शामिल होने वाले पीएम मोदी ने मिशन 2024 के तहत उत्तर प्रदेश पर फोकस कर लिया है। योगी आदित्यनाथ सरकार के पहले कार्यकाल में उत्तर प्रदेश में दो ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी के दौरान भी हजारों करोड़ के निवेश से प्रदेश का कायाकल्प हो रहा है।

उत्तर प्रदेश में तीसरी ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी में 865 एमएसएमई इकाइयां 3586 करोड़ का निवेश करेंगी। इससे 50 हजार रोजगार के अवसर सृजित होंगे। प्रदेश की अर्थव्यवस्था को रफ्तार देने के साथ ही रोजगार के अधिक मौके पैदा करने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार का फोकस ज्यादा एमएसएमई इकाइयों की स्थापना पर है। सूक्ष्म, लघु व मध्यम उद्यमों (एमएसएमई) क्षेत्र को लेकर केन्द्र सरकार भी लगातार बेहद गंभीर है। उत्तर प्रदेश में इस बार सबसे ज्यादा 283 एमएसएमई इकाइयां मेरठ में स्थापित होंगी। वहां 702 करोड़ रुपये का निवेश प्रस्तावित है। इसके बाद अयोध्या में 915 करोड़ के निवेश से लगभग 128 इकाइयां स्थापित होंगी।

लखनऊ में तीसरी ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी में इस बार कुल मिलाकर इसमें 75,000 करोड़ रुपये से अधिक की 1,500 परियोजनाओं को शुरू करने की योजना है। लखनऊ में शुरू होने वाली अन्य प्रमुख परियोजनाओं में अदाणी समूह के 4,900 करोड़ तथा हीरानंदानी समूह के 9,100 करोड़ की लागत वाले डाटा सेंटर भी हैं। इनके साथ ही इस बार माइक्रोसॉफ्ट के 2,100 करोड़ की लागत से साफ्टवेयर सेंटर भी बनेंगे। आईटी व इलेक्ट्रॉनिक क्षेत्र से 21,000 करोड़ का निवेश होगा। प्रदेश में डालमिया ग्रुप 600 करोड़ की लागत से मिर्जापुर में सीमेंट निर्माण का संयंत्र प्रारंभ करेगा तो हिंदुस्तान यूनिलीवर लिमिटेड के डिटर्जेंट प्लांट पर भी काम शुरू होगा।

औद्योगिक विकास विभाग के अधिकारियों के अनुसार समारोह में सूचना प्रौद्योगिकी व इलेक्ट्रानिक क्षेत्र के अलावा कपड़ा, पर्यटन, ऊर्जा, खाद्य प्रसंस्करण और फार्मा की कई अन्य परियोजनाएं भी शुरू होंगी। उत्तर प्रदेश के विकास को गति देने के इरादे से प्रारंभ की जा रही ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी में उद्योगजगत की बड़ी हस्तियां शामिल होंगी। इसमें अडानी समूह, माइक्रोसॉफ्ट इंडिया, रिलायंस इंडस्ट्रीज, हीरानंदानी समूह, बिरला ग्रुप, आईटीसी ग्रुप सहित कई इंटरनेशनल कम्पनियों के चेयरमैन, सीईओ, निदेशक शामिल होंगे।