होम > राज्य > उत्तर प्रदेश / यूपी

सिंगापुर के उच्चायुक्त सिमोन वॉन्ग ने यूपी में निवेश के लिये अनुकूल माहौल को सराहा

सिंगापुर के उच्चायुक्त सिमोन वॉन्ग ने यूपी में निवेश के लिये अनुकूल माहौल को सराहा

लखनऊ। प्रदेश के मुख्य सचिव राजेन्द्र कुमार तिवारी से सिंगापुर के उच्चायुक्त सिमोन वॉन्ग के नेतृत्व में आये प्रतिनिधिमण्डल ने भेंट की।

तिवारी ने कहा कि उत्तर प्रदेश में अवस्थापना सुविधाओं के विकास के कारण दुनियाभर के निवेशकों को अपनी ओर आकर्षित करने में सफल हो रहा है। उत्तर प्रदेश निवेशकों को अनुकूल एवं भयमुक्त वातावरण प्रदान कर रहा है। प्रदेश में 21 नई इन्वेस्टमेंट फ्रेंडली नीतियाँ लागू की गई हैं।

प्रदेश में एक्सप्रेस-वेज़ का निर्माण बहुत तेजी से किया जा रहा है, जिनमें पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे, बुन्देलखण्ड एक्सप्रेस-वे, गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस-वे, बलिया लिंक एक्सप्रेस-वे, गंगा एक्सप्रेस-वे इत्यादि शामिल हैं। प्रदेश में नये-नये एक्सप्रेस इस तरह से विकसित किये जा रहा है, जिससे लोग वायुमार्ग के स्थान पर सड़क मार्ग से यात्रा करने को ज्यादा प्राथमिकता दे रहे हैं। इसी प्रकार तहसील मुख्यालयों एवं विकासखण्ड मुख्यालयों को 2 लेन सड़क मार्गों से जोड़ा जा रहा है। जबकि राज्य मुख्यालय से जिला मुख्यालय की सड़कों को फोर-लेन किया जा रहा है।

एयर कनेक्टीविटी बढ़ाने के उद्देश्य से कई एयरपोर्ट विकसित किये जा रहे हैं। जेवर इण्टरनेशनल एयरपोर्ट बनाया जा रहा है। कुशीनगर में एक इण्टरनेशनल एयरपोर्ट बनकर तैयार है, इससे देश-विदेश मे रह रहे बौद्ध अनुयायियों को आवागमन में सुविधा होगी। प्रदेश में अलीगढ़, आगरा, लखनऊ, झांसी, चित्रकूट एवं कानपुर में डिफेन्स कॉरीडोर विकसित किया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि कोलकाता की हुगली नदी से वाराणसी तथा प्रयागराज तक जलमार्ग भी बहुत तेजी से विकसित किया जा रहा है, जिससे उद्योगों को और अधिक गति मिलेगी। प्रदेश में ऊर्जा की कोई कमी नहीं है तथा उद्योगों को निर्बाध विद्युत आपूर्ति की जा रही है। प्रदेश में पर्याप्त मात्रा में स्किल्ड मैन पावर भी उपलब्ध है।

सिंगापुर के उच्चायुक्त सिमोन वॉन्ग ने कहा कि सिंगापुर और भारत के व्यापारिक रिश्ते काफी मजबूत है। उत्तर प्रदेश में निवेश के लिये अनुकूल माहौल है और यहां का मास्टर प्लान बहुत अच्छा है। यहां पर लॉजिस्टिक प्वाइंट बहुत ही सुनियोजित ढंग से विकसित किये गये हैं। उत्तर प्रदेश में सर्वाधिक धार्मिक स्थल होने के कारण यहां बड़ी संख्या में देश-विदेश से श्रद्धालु आते हैं। उन्होंने कहा कि सिंगापुर के निवेशक उत्तर प्रदेश में बुन्देलखण्ड डिफेन्स कॉरीडोर, एमएसएमई, लॉजिस्टिक, इंटीग्रेटेड टाउनशिप तथा डाटा सेण्टर की स्थापना में निवेश के लिये इच्छुक हैं। इसके अलावा निवेशक वाराणसी में स्किल सेण्टर के क्षेत्र में निवेश करना चाहते हैं।

इस अवसर पर मुख्य सचिव ने सिंगापुर के उच्चायुक्त सिमोन वॉन्ग के नेतृत्व में आये प्रतिनिधिमण्डल को ओडीओपी के उत्पाद भेंट किये तथा सिंगापुर के उच्चायुक्त सिमोन वॉन्ग ने मुख्य सचिव को एक पुस्तक भेंट की।

इस अवसर पर अपर मुख्य सचिव अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास अरविन्द कुमार एवं विशेष सचिव औद्योगिक विकास मुत्थू स्वामी भी उपस्थित थे।


पढ़ें Hindi Newsऑनलाइन . जानिए देश-विदेश, मनोरंजन, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस और अपने प्रदेश, से जुड़ी खबरें।


0Comments