होम > राज्य > उत्तर प्रदेश / यूपी

खेल सुविधाओं को बढ़ाने के लिए योगी सरकार द्वारा दिया जा रहा विशेष बल : डा0 नवनीत सहगल

खेल सुविधाओं को बढ़ाने के लिए योगी सरकार द्वारा दिया जा रहा विशेष बल  : डा0 नवनीत सहगल

उत्तर प्रदेश के अपर मुख्य सचिव, खेलकूद, डा0 नवनीत सहगल ने ‘‘खेलों इण्डिया-राष्ट्रीय खेल विकास कार्यक्रम’’ तहत बरेली तथा जौनपुर में खेल अवस्थापना सुविधाओं को बढ़ाने के लिए चार प्रस्तावों को भारत सरकार के अनुमोदनार्थ भेजने की स्वीकृति प्रदान कर दी है। इसके साथ ही उन्होंने भारत सरकार को पूर्व में भेजे गये प्रस्तावों का प्रभावी अनुश्रवण करने के निर्देश दिए भी दिये हैं।

बापू भवन स्थित अपर मुख्य सचिव के कार्यालय में सम्पन्न हुई बैठक में बरेली में स्थापित स्पोर्ट्स स्टेडियम में 700 लाख रुपये की लागत से सिन्थेटिक रनिंग ट्रैक के निर्माण के प्रस्ताव की स्वीकृति प्रदान की गई। इसके अतिरिक्त जौनपुर में स्थापित स्पोर्ट्स स्टेडियम में 733 लाख रुपये की लागत 400 मीटर सिन्थेटिक रनिंग ट्रैक, 10 करोड़ रुपये की लागत से बहुउद्देशीय क्रीडाहाल तथा 799 लाख रुपये से तरणताल निर्माण के प्रोजेक्ट को भारत सरकार के स्वीकृतार्थ भेजने पर अनुमोदन प्रदान किया गया है।

डा0 सहगल ने कहा प्रदेश में खेल प्रतिभाएं निखर कर सामने आयें इसके लिए अवस्थापना सुविधाओं को बढ़ाने पर विशेष बल दिया जा रहा है। खासतौर से ग्रामीण क्षेत्रों में खेल सुविधाओं को बढ़ावा दिया जा रहा है। खेलो इण्डिया के तहत ग्रामीण क्षेत्रों में स्टेडियम का निर्माण कराया जा रहा है। उन्होंने कहा कि गांवों में फुटबाल, वालीबाल, क्रिकेट, कबड्डी आदि खेलों के आयोजन को प्रमुख दी जा रही है। अधिकारियों को निर्देश दिए गये हैं वे क्षेत्रवार खेलों का अध्ययन करे कि किस क्षेत्र में कौन का खेल लोगों के बीच लोकप्रिय है। इसके आधार उन क्षेत्रों में उस खेल से जुड़ी सुविधाएं उपलब्ध कराने में प्रमुखता दी जायेगी।
बापू भवन स्थित अपर मुख्य सचिव के कार्यालय में सम्पन्न हुई बैठक में बरेली में स्थापित स्पोर्ट्स स्टेडियम में 700 लाख रुपये की लागत से सिन्थेटिक रनिंग ट्रैक के निर्माण के प्रस्ताव की स्वीकृति प्रदान की गई। इसके अतिरिक्त जौनपुर में स्थापित स्पोर्ट्स स्टेडियम में 733 लाख रुपये की लागत 400 मीटर सिन्थेटिक रनिंग ट्रैक, 10 करोड़ रुपये की लागत से बहुउद्देशीय क्रीडाहाल तथा 799 लाख रुपये से तरणताल निर्माण के प्रोजेक्ट को भारत सरकार के स्वीकृतार्थ भेजने पर अनुमोदन प्रदान किया गया है।

डा0 सहगल ने कहा प्रदेश में खेल प्रतिभाएं निखर कर सामने आयें इसके लिए अवस्थापना सुविधाओं को बढ़ाने पर विशेष बल दिया जा रहा है। खासतौर से ग्रामीण क्षेत्रों में खेल सुविधाओं को बढ़ावा दिया जा रहा है। खेलो इण्डिया के तहत ग्रामीण क्षेत्रों में स्टेडियम का निर्माण कराया जा रहा है। उन्होंने कहा कि गांवों में फुटबाल, वालीबाल, क्रिकेट, कबड्डी आदि खेलों के आयोजन को प्रमुख दी जा रही है। अधिकारियों को निर्देश दिए गये हैं वे क्षेत्रवार खेलों का अध्ययन करे कि किस क्षेत्र में कौन का खेल लोगों के बीच लोकप्रिय है। इसके आधार उन क्षेत्रों में उस खेल से जुड़ी सुविधाएं उपलब्ध कराने में प्रमुखता दी जायेगी।