होम > राज्य > उत्तर प्रदेश / यूपी

उत्तर प्रदेश के स्टांप पंजीयन मंत्री ने अपनाया सख्त रुख

उत्तर प्रदेश के स्टांप पंजीयन मंत्री ने अपनाया सख्त रुख

उत्तर प्रदेश के स्थान पर पंजीयन राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार रविंद्र जायसवाल ने राजस्व संग्रह में नकारात्मक प्रदर्शन करने वाले मंडलों के अधिकारियों के कार्यों को गंभीरता से लिया है और निर्देशित किया है कि लक्ष्य के सापेक्ष शत-प्रतिशत प्राप्ति सुनिश्चित करें।

रविंद्र जायसवाल ने कहा कि मई 2022 में अनेक मंडलों की राजस्व प्राप्ति लक्ष्य सापेक्ष 90 प्रतिशत से भी कम रही है। प्रदेश के 18 मंडल में से 13 मंडल इसमें शामिल हैं। केवल 5 मंडल ही 90 प्रतिशत से अधिक का राजस्व संग्रह कर पाए हैं। इसमें सबसे ख़राब प्रदर्शन मेरठ मंडल का रहा है। जिसने लक्ष्य सापेक्ष केवल 66.4 प्रतिशत ही राजस्व संग्रह किया। 

इसके बाद क्रमशः कानपुर 68.5 प्रतिशत, आगरा 72.6 प्रतिशत, अयोध्या 74.7 प्रतिशत, प्रयागराज 78.1 प्रतिशत, तथा अलीगढ़ 79.1 प्रतिशत रहे हैं। यह प्रदर्शन काफी निराशाजनक हैं।

रविंद्र जायसवाल ने राजस्व संग्रह में कमजोर प्रदर्शन करने वाले मंडल के अधिकारियों को निर्देशित किया है कि राजस्व संग्रह के कार्य को गंभीरता से पूर्ण करें। उन्होंने कहा कि विभागीय अधिकारियों के संबंध में मिलने वाली किसी भी शिकायत पर दोषी पाए जाने वालों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जाएगी।