होम > राज्य > उत्तर प्रदेश / यूपी

यूपी को मिलेगी 1193 नए फ्लाईओवर और आरओबी की सौगात

यूपी को मिलेगी 1193 नए फ्लाईओवर और आरओबी की सौगात

लखनऊ | उत्तर प्रदेश में अब शहरों के बुनियादी ढांचे को सुदृढ़ कर विकास की गति को बढ़ने की योजना बनाई जा रही है।  प्रदेश में तकरीबन 1200 नए फ्लाई ओवर और  आरओबी नेटवर्क स्थापित किये जाने की योजना को मंज़ूरी मिल गई है। पिछले तकरीबन साढ़े चार साल में रिकार्ड संख्या में सेतु निर्माण कर राज्य सरकार ने पहले से ही प्रदेश में तरक्की की मजबूत बुनियाद रख दी है। 

इन सभी नए फ्लाईओवर और आरओबी में से 54 आरओबी और 355 लघु सेतुओं का पहले से ही रिकार्ड समय में निर्माण कर राज्य सरकार ने इरादे जाहिर कर दिए हैं। राज्य सरकार प्रदेश में यातायात को और सुगम बनाने की योजना को फलीभूत करने जा रही है। इसी के साथ आने वाले समय में उत्तर प्रदेश के विकास की दिशा और देश तय करेंगे ये सभी फ्लाईओवर।  

सरकार प्रदेश में 121 नए आरओबी 305 दीर्घ सेतुओं और 767 लघु सेतुओं समेत कुल 1193 नए पुलों के निर्माण पर तेजी से काम कर रही है। इनमें से 260 सेतु ऐसे हैं जिनका शिलान्यास पिछली सरकारों में वर्षों पहले हुआ लेकिन निर्माण कार्य नहीं शुरू हो सका। कई योजनाओं को अगले कुछ दिनों में पूरा करने की तैयारी चल रही है। नए सेतुओं के नेटवर्क के साथ यूपी देश के सबसे अधिक फ्लाईओवर और सुगम यातायात वाले राज्यों में शामिल हो जाएगा।

निर्मित हो चुके 124 दीर्घ सेतुओं में से 89 सेतु ऐसे हैं जो पिछली सरकारों में कई वर्षों से अधूरे पड़े थे। राज्य सरकार द्वारा बनाए गए 54 आरओबी में से 35 पिछली सरकारों में लंबे समय से अधूरे पड़े थे। लोक निर्माण विभाग और राज्य सेतु निगम ने पुलों और आरओबी निर्माण के मामले में पिछली सरकारों को मीलों पीछे छोड़ दिया है। सेतुओं का सबसे बड़ा नेटवर्क खड़ा कर राज्य सरकार ने प्रदेश में विकास के साथ ही रोजगार की भी बड़ी राह खोल दी है।

उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य कहते हैं कि सड़कें हों या सेतु हमने रिकार्ड समय में योजनाओं को पूरा किया है। समयबद्धता, गुणवत्ता के साथ हमने तकनीक को सर्वोपरि रखा है। हमारा लक्ष्य प्रदेश के लोगों को सुगम यातायात सुलभ कराने के साथ ही सड़कों और सेतुओं के जरिये विकास और तरक्की की राह मजबूत करना है। पिछली सरकारों में अधूरी पड़ी योजनाओं को भी हम पूरा कर रहे हैं।

0Comments