होम > राज्य > उत्तर प्रदेश / यूपी

योगी सरकार सहकारी बैंकों के माध्यम से किसानों को उपलब्ध करा रही है आसानी से ऋण

योगी सरकार सहकारी बैंकों के माध्यम से किसानों को उपलब्ध करा रही है आसानी से ऋण

प्रदेश के सहकारिता राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) जे.पी.एस. राठौर ने बताया कि किसानों की आय बढ़ाने के लिए सरकार कई योजनायें चला रही है। उन्होंने कहा कि किसानों का हित सरकार की प्राथमिकता है। प्रदेश के किसानों को सरकार द्वारा सहकारी बैंको के माध्यम से फसली ऋण, दीर्घकालीन ऋण उपलब्ध कराया जाता है, जिससे किसान बिना किसी समस्या के अपनी खेती-बाड़ी कर सकें।

सहकारिता मंत्री ने कहा कि इस वित्तीय वर्ष में जिला सहकारी बैंकों के माध्यम से 10 हजार करोड़ रूपये का फसली ऋण वितरित किये जाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है, जिसमें से 01 अप्रैल, 2022 से 30 जून, 2022 तक रू0 4635.00 करोड़ रूपये का फसली ऋण वितरित भी किया जा चुका है, जिससे 8.5 लाख लघु एवं सीमान्त किसान लाभान्वित हुये हैं। इसके अतिरिक्त उ0प्र0 सहकारी ग्राम विकास बैंक (एल.डी.बी.) को राज्य सरकार द्वारा 01 हजार करोड़ की बैंक गारन्टी दी गयी है, जिससे किसानों को दीर्घकालीन ऋण सुलभ हो सकेगा।

जे.पी.एस. राठौर ने कहा कि किसानो को आसानी से ऋण उपलब्ध हो सके इसके लिए समस्त प्रदेश में सहकारी बैकों की शाखायें खोलने का कार्य किया जा रहा है। इसी क्रम में जनपद फतेहपुर, मथुरा, गौतमबुद्ध नगर, कानपुर देहात, कन्नौज, संभल, अमरोहा, हापुड़, अम्बेडकर नगर, अमेठी, गोरखपुर, महाराजगंज एवं औरैया में आधुनिक बैंकिंग सुविधाओं से लैस उ0प्र0 सहकारी बैंक की 13 नयी शाखाओं का संचालन प्रारम्भ किया गया है।
सम्पर्क सूत्र: सुनील कनौजिया