होम > राज्य > पश्चिम बंगाल

सुधांशु त्रिवेदी ने ममता पर साधा निशाना, कहा बंगाली की गौरवशाली धरती हो रही कलंकित

सुधांशु त्रिवेदी ने ममता पर साधा निशाना, कहा बंगाली की गौरवशाली धरती हो रही कलंकित

पश्चिम बंगाल विधानसभा में टीएमसी विधायकों द्वारा सोमवार को की गई मारपीट के बाद भाजपा राज्यसभा सांसद सुधांशु त्रिवेदी घटना की आलोचना की है। उन्होंने राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर भी जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा है कि बंगाल की गौरवशाली धरती को कलंकित किया जा रहा है।

मीडिया से बातचीत करते हुए सुधांशु त्रिवेदी ने कहा कि पश्चिम बंगाल की विधानसभा में जो कुछ हुआ , क्या वो बंगाली भद्रलोक का प्रतीक है। उन्होंने कहा कि जो बंगाल रवींद्र संगीत से लेकर कला, साहित्य, संस्कृति और क्रांतिकारियों की धरती रही है उसे आज कलंकित किया जा रहा है। राज्य में हत्याएं हो रही है, लोगों को जिंदा जलाया जा रहा है और उस पर भी संवेदनहीनता की पराकाष्ठा देखिए।


भाजपा संसदीय दल की बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा दिए गए निर्देशों के बारे में बताते हुए उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री का यह विचार है कि आजादी के अमृत महोत्सव के दौरान भाजपा का स्थापना दिवस आ रहा है। इस दौरान समाज के अंतिम पायदान तक के व्यक्ति का विकास, सामाजिक न्याय और संविधान, भारतीय संस्कृति , सुरक्षा और शक्ति का संचय से जुड़े कार्यों में सभी सांसदों को अपना-अपना योगदान देना चाहिए।


संसदीय दल की बैठक के बाहर आजादी के गुमनाम नायकों को लेकर लगाई गई प्रदर्शनी के बारे में मीडिया को बताते हुए सुधांशु त्रिवेदी ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने यह संदेश दिया है कि देश के विभिन्न इलाकों में , विभिन्न अंचलों में हजारों लोगों ने देश के लिए बलिदान दिया है जिन्हें इतिहास के पन्नों में समुचित जगह नहीं मिल पाई है, उन सबको समुचित स्थान और सम्मान देने का यह प्रयास हैं ताकि यह पता लग सके कि विश्व का इतना बड़ा देश जो विश्व के प्राचीनतम जीवित सभ्यताओं में से एक है कि चेतना कितनी व्यापक थी और कितने लोगों का उसमें योगदान था। यह उन लोगों को भी जवाब है जो इतिहास को एक व्यक्ति, एक पार्टी और एक विचारधारा की बपौती मानते हैं।