होम > राज्य > पश्चिम बंगाल

प. बंगाल में उपचुनावों की मतगणना में ममता आगे, अन्य 2 सीटों पर भी तृणमूल को बढ़त

प. बंगाल में उपचुनावों की मतगणना में ममता आगे, अन्य 2 सीटों पर भी तृणमूल को बढ़त

कोलकाता | पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की किस्मत का फैसला आज हो जायेगा।  कोलकाता के भवानीपुर और मुर्शिदाबाद के समसेरगंज और जंगीपुर विधानसभा क्षेत्रों में रविवार को सुबह 8 बजे कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच मतगणना शुरू हो गई है। कोलकाता के सखावत मेमोरियल स्कूल में मतगणना हो रही है। आयोग के सूत्रों के अनुसार, भवानीपुर निर्वाचन क्षेत्र के लिए 21 राउंड, समसेरगंज के लिए 26 राउंड और जंगीपुर निर्वाचन क्षेत्र के लिए 24 राउंड में मतगणना होगी।

राज्य के सभी मतगणना केंद्रों पर सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त किए गए हैं। मतगणना केंद्रों पर केंद्रीय बलों की 24 कंपनियों को तैनात किया गया है और पूरे इलाके को सीसीटीवी की निगरानी में रखा गया है। अधिकारियों ने बताया कि वहां केवल कलम और कागज की अनुमति होगी और केवल रिटर्निग अधिकारी और पर्यवेक्षक को ही फोन का उपयोग करने की अनुमति होगी।

अबतक मिले शुरुआती रुझानों से पता चला है कि तृणमूल कांग्रेस भवानीपुर सहित सभी तीन निर्वाचन क्षेत्रों में आगे चल रही है। भवानीपुर में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का मुकाबला भाजपा की प्रियंका टिबरेवाल और माकपा के श्रीजीब बिस्वास से है। मुख्यमंत्री की कुर्सी बरकरार रखने के लिए ममता के लिए यह सीट जीतना अनिवार्य है। शुरूआती खबरों के मुताबिक पोस्टल बैलेट की गिनती पूरी होने के बाद ममता बनर्जी 2,800 वोटों के अंतर से आगे चल रही हैं।

मुर्शिदाबाद जिले के दो अन्य निर्वाचन क्षेत्रों जंगीपुर और समसेरगंज में तृणमूल कांग्रेस के उम्मीदवारों ने अपनी बढ़त बनाए रखी है। जाकिर हुसैन, जो जंगीपुर विधानसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ रहे हैं, पहले दौर की मतगणना के बाद 1,300 मतों के अंतर से आगे चल रहे हैं। समसेरगंज से तृणमूल कांग्रेस के उम्मीदवार अमीरुल इस्लाम भी आगे चल रहे हैं।

मीडिया से बात करते हुए, राज्य के परिवहन मंत्री फिरहाद हकीम ने बताया कि मुख्यमंत्री 70,000 से 80,000 मतों के अंतर से जीतने जा रहे हैं। हकीम ने कहा, 'वह रिकॉर्ड अंतर से जीतेगी।' वहीं बीजेपी प्रत्याशी प्रियंका टिबरेवाल ने कहा, 'लोगों ने वोट दिया है और अब अगर सब कुछ सही तरीके से चलता रहा तो इसमें कोई शक नहीं कि मैं जीतने जा रही हूं। '

बनर्जी के खिलाफ माकपा उम्मीदवार श्रीजीब बिस्वास ने कहा, "चुनाव परिणामों से हमें कोई फर्क नहीं पड़ता। हम एक दिन के लिए राजनीति नहीं करते हैं। हम पूरे साल लोगों के साथ रहते हैं।" 30 सितंबर को मतदान वाले तीनों निर्वाचन क्षेत्रों में मतगणना केंद्रों के 200 मीटर के दायरे में सीआरपीसी की धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा लागू कर दी गई है।

भवानीपुर में 57 फीसदी से ज्यादा मतदान हुआ। समसेरगंज और जंगीपुर में क्रमश: 79.92 प्रतिशत और 77.63 प्रतिशत की उच्च मतदान दर दर्ज किया गया था।