होम > शासन

उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमण की रिकवरी दर 98.7 प्रतिशत : सीएम योगी

उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमण की रिकवरी दर 98.7 प्रतिशत : सीएम योगी


मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कोरोना संक्रमण से बचाव और उपचार की व्यवस्थाओं को निरन्तर सुदृढ़ बनाकर रखा जाए। प्रदेश में संक्रमण तेजी से कम हो रहा है, किन्तु यह अभी समाप्त नहीं हुआ है। इसलिए यह अतिरिक्त सतर्कता एवं सावधानी बरतने का समय है। उन्होंने कोविड प्रोटोकॉल का पूर्णतया पालन सुनिश्चित कराए जाने के निर्देश दिए हैं।

मुख्यमंत्री आज यहां लोक भवन में आहूत एक उच्चस्तरीय बैठक में प्रदेश में कोविड-19 की स्थिति की समीक्षा कर रहे थे। बैठक में मुख्यमंत्री को अवगत कराया गया कि पिछले 24 घण्टों में राज्य में कोरोना संक्रमण के 17 नए मामले सामने आए हैं। इस अवधि में 12 व्यक्तियों को सफल उपचार के उपरान्त डिस्चार्ज किया गया। वर्तमान में प्रदेश में कोरोना के सक्रिय मामलों की संख्या 198 है।

जनपद अलीगढ़, अमेठी, अमरोहा, औरैया, अयोध्या, आजमगढ़, बागपत, बलिया, बांदा, बस्ती, बहराइच, भदोही, बिजनौर, एटा, फर्रुखाबाद, गोण्डा, हमीरपुर, हाथरस, कानपुर देहात, कासगंज, महोबा, मीरजापुर, मुरादाबाद, मुजफ्फरनगर, पीलीभीत, प्रतापगढ़, रामपुर, सहारनपुर, शामली, श्रावस्ती तथा सुल्तानपुर में कोविड का एक भी मरीज नहीं है। प्रदेश में कोरोना संक्रमण की रिकवरी दर 98.7 प्रतिशत है। पिछले 24 घण्टे में प्रदेश में 2,10,235 कोरोना टेस्ट किए गए। अब तक राज्य में 07 करोड़ 63 लाख 45 हजार 14 कोविड टेस्ट सम्पन्न हो चुके हैं।

मुख्यमंत्री ने कोविड वैक्सीनेशन कार्य को पूरी सक्रियता से संचालित करने के निर्देश देते हुए कहा कि संक्रमण से बचाव में कोविड टीकाकरण एक महत्वपूर्ण सुरक्षा कवच है। बैठक में अवगत कराया गया कि प्रदेश में कोविड टीकाकरण की प्रक्रिया तीव्र गति से चल रही है। प्रदेश में अब तक 09 करोड़ 41 लाख 53 हजार 859 कोरोना वैक्सीन की डोज लगाई जा चुकी हैं। उन्होंने कहा कि जिन लोगों ने वैक्सीन की पहली डोज ले ली है, वे सभी लोग समय पर वैक्सीन की दूसरी डोज भी समय पर अवश्य लें।

मुख्यमंत्री ने डेंगू व अन्य वायरल बीमारियों के सम्बन्ध में प्रदेशव्यापी सर्विलान्स कार्यक्रम को और प्रभावी बनाए जाने के निर्देश दिये। बुखार व संक्रमण के अन्य लक्षणों के संदिग्ध मरीजों की पहचान कर, उन्हें उचित परामर्श दिया जाए। अस्पतालों में बेड एवं दवाओं की पर्याप्त उपलब्धता बनाए रखी जाए।

मुख्यमंत्री को अवगत कराया गया कि केन्द्र व राज्य सरकार के समन्वित प्रयासों से प्रदेश में अब तक 423 ऑक्सीजन प्लाण्ट क्रियाशील हो चुके हैं। मुख्यमंत्री  ने निर्देशित किया कि शेष ऑक्सीजन प्लाण्ट की स्थापना की कार्यवाही भी तेजी से की जाए। तकनीशियनों का प्रशिक्षण शीघ्र पूरा कराया जाए। उन्होंने निर्देशित किया कि सभी जिलाधिकारी निर्माणाधीन ऑक्सीजन प्लाण्ट के कार्याें का नियमित निरीक्षण करें।

मुख्यमंत्री ने कहा कि सभी ग्राम पंचायतों में ग्राम सचिवालय की स्थापना राज्य सरकार की प्राथमिकता है। इन भवनों के निर्माण से कार्य प्रणाली को एक व्यवस्थित स्वरूप भी मिलेगा। उन्होंने निर्देश दिए कि आगामी 03 माह में प्रदेश की सभी ग्राम पंचायतो में ग्राम सचिवालय भवन का निर्माण पूर्ण कर लिया जाए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि टोक्यो पैरालम्पिक में प्रदेश के खिलाड़ियों ने शानदार प्रदर्शन कर देश का गौरव बढ़ाया है। इस विशिष्ट उपलब्धि के लिए उत्तर प्रदेश के पदक विजेता और प्रतिभागी खिलाड़ियों का सार्वजनिक अभिनन्दन किया जाएगा। उन्होंने इस कार्यक्रम में सभी 75 जनपदों की दिव्यांग खेल प्रतिभाओं को भी आमंत्रित किये जाने के निर्देश देते हुए कहा कि इससे इन खिलाड़ियों को प्रेरणा मिलेगी। उन्होंने इस आयोजन के लिए कार्ययोजना को अंतिम रूप देने के निर्देश दिए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि बाढ़/अतिवृष्टि से प्रभावित लोगों को तत्काल राशन तथा अन्य आवश्यक सहायता उपलब्ध करायी जाए। बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में गैमेक्सीन, ब्लीचिंग पाउडर व चूने का छिड़काव किया जाए, जिससे इन क्षेत्रों में कोई संक्रामक बीमारी न फैलने पाए।

0Comments