Covid नियंत्रण के सम्बन्ध में प्रदेश सरकार द्वारा अपनायी जा रही रणनीति अत्यन्त कारगर सिद्ध हो रही : सीएम योगी

Covid  नियंत्रण के सम्बन्ध में प्रदेश सरकार द्वारा अपनायी जा रही रणनीति अत्यन्त कारगर सिद्ध हो रही : सीएम योगी

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कोविड नियंत्रण के सम्बन्ध में प्रदेश सरकार द्वारा अपनायी जा रही रणनीति अत्यन्त कारगर सिद्ध हो रही है। उन्होंने कहा है कि कोविड-19 की रोक-थाम के लिए निर्धारित प्रोटोकॉल का कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित कराया जाए। उन्होंने कोरोना संक्रमण की नियंत्रित स्थिति के बावजूद कोविड टेस्टिंग को पूरी सक्रियता से जारी रखने के निर्देश दिए हैं।

मुख्यमंत्री आज यहां लोक भवन में आहूत एक उच्चस्तरीय बैठक में प्रदेश में कोविड-19 की स्थिति की समीक्षा कर रहे थे। बैठक में मुख्यमंत्री को अवगत कराया गया कि विगत 24 घण्टों में राज्य में कोरोना संक्रमण के 53 नए मामले सामने आये हैं। इसी अवधि में 56 संक्रमित व्यक्तियों को सफल उपचार के बाद डिस्चार्ज किया गया है। वर्तमान में प्रदेश में कोरोना संक्रमण के एक्टिव मामलों की संख्या 1,028 है। पिछले 24 घण्टों में प्रदेश में 2 लाख 34 हजार 139 कोविड टेस्ट किये गये हैं। राज्य में अब तक कुल 06 करोड़ 33 लाख 07 हजार 101 कोरोना टेस्ट सम्पन्न हो चुके हैं। राज्य में कोरोना संक्रमण की रिकवरी दर 98.6 प्रतिशत है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार के सक्रिय प्रयासों से कोरोना महामारी पर प्रभावी अंकुश लगा है। बैठक में मुख्यमंत्री को अवगत कराया गया कि जनपद अलीगढ़, बलरामपुर, बस्ती, एटा, महोबा, ललितपुर, हाथरस और श्रावस्ती में कोविड का एक भी मरीज नहीं है। यह जनपद कोरोना संक्रमण से मुक्त हैं। पिछले 24 घण्टों में 44 जनपदों में संक्रमण का एक भी नया केस नहीं पाया गया है, जबकि 31 जनपदों में इकाई अंक में मरीज मिले हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना के प्रसार को रोकने में वैक्सीनेशन एक महत्वपूर्ण सुरक्षा कवच है। इसलिए कोविड टीकाकरण के प्रति लोगों को सतत जागरूक करते हुए टीकाकरण कार्य तेजी से संचालित किया जाए। बैठक में अवगत कराया गया कि गत 21 जुलाई तक प्रदेश में 04 करोड़ 20 लाख 36 हजार से अधिक वैक्सीन डोज लगाई जा चुकी हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि घर-घर पर दस्तक अभियान को पूरी तत्परता से संचालित किया जाए। इसके अन्तर्गत टी0बी0 के सक्रिय रोगियों, डेंगू, फाइलेरिया, मलेरिया और इंसेफेलाइटिस आदि से ग्रसित मरीजों की पहचान कर उनके उपचार की व्यवस्था की जाए। उन्होंने कहा कि दस्तक अभियान के दौरान लोगों को स्वच्छता, सैनिटाइजेशन, पोषणयुक्त भोजन आदि के सम्बन्ध में जागरूक किया जाए। यह अभियान आगामी 25 जलाई तक जारी रहेगा। 26 जुलाई, 2021 से एक विशेष अभियान चलाकर आयुष्मान भारत योजना के अन्तर्गत गोल्डेन कार्ड बनाए जाएं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि बरसात के दृष्टिगत नदियों के जल स्तर की निरन्तर मॉनीटरिंग की जाए। नदियों के जल स्तर को देखते हुए आवश्यकतानुसार नाव की व्यवस्था पूर्व में कर ली जाए। उन्होंने कहा कि एन0डी0आर0एफ0, एस0डी0आर0एफ0 सहित आपदा प्रबन्धन टीमों को पूरी तरह सक्रिय रखा जाए। प्रभावित परिवारों को राहत एवं मदद तत्काल उपलब्ध कराई जाए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य के ऐसे अन्त्योदय कार्डधारक परिवार जो प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना अथवा मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना में से किसी भी योजना से आच्छादित नहीं हैं, उन्हें मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना में शामिल किये जाने का निर्णय लिया गया है। इससे 40 लाख अन्त्योदय कार्ड धारक परिवार लाभान्वित होंगे। इस निर्णय से समाज के अंतिम पायदान पर खड़े अन्त्योदय कार्डधारक परिवारों को बीमारी की स्थिति में होने वाले खर्च से सुरक्षा मिलेगी। उन्होंने सभी पात्र लोगों को इस फैसले का लाभ दिलाने के निर्देश दिए।

0Comments