होम > दुनिया

पाकिस्तान में चारो तरफ मच रखा अंधकार, खाने के लाले तो थे ही, अब कई शहरों में बिजली भी हुई गुल

पाकिस्तान में चारो तरफ मच रखा अंधकार, खाने के लाले तो थे ही, अब कई शहरों में बिजली भी हुई गुल

आज कल जहां एक तरफ पूरा पाकिस्तान बढ़ती आर्थिक तंगी गरीबी और महंगाई की मार झेल रहा हैं, तो वही पाकिस्तान पर, आटा और दाल जैसी बुनियादी चीजें भी खरीदना आम लोगों के लिए मुश्किल होता जा रहा है। तो वहीं अब पाकिस्तान बिजली की समस्या से परेशान नजर आ रहा हैं। 

इसी बीच हाईटेंशन ट्रांसमिशन लाइनों में खराबी के चलते देश के विभिन्न हिस्सों में बिजली गुल हो गई है। पाकिस्तान पहले से बिजली की किल्लत और लंबी कटौती का सामना कर रहा है। सरकार बिजली बचाने के लिए 8 बजे ही बाजारों को बंद कर रही है।

कराची, लाहौर, क्वेटा समेत देश के कई शहरों में बिजली आपूर्ति बंद कर दी गई है। मुल्तान क्षेत्र में सिस्टम ट्रिप के बाद कई इलाकों में बिजली गायब, इस्को के 117 ग्रिड स्टेशनों से भी बिजली गायब क्वेटा समेत बलूचिस्तान के 22 जिलों में बिजली काट दी गई है

जानकारी के मुताबिक क्वेटा इलेक्ट्रिक सप्लाई कंपनी के अधिकारियों का कहना है कि गुड्डू से क्वेटा आने वाली बिजली की दोनों ट्रांसमिशन लाइनें ट्रिप हो गई हैंइस्को के अधिकारियों का कहना है कि तकनीकी खराबी के संबंध में जानकारी ली जा रही है।

लाहौर में माल रोड और कैनाल रोड सहित विभिन्न क्षेत्रों में बिजली बंद कर दी गई है, जबकि लाहौर में ही शादमान, बागबानपुरा, हसन टाउन, अवान टाउन, इकबाल टाउन में भी बिजली काट दी गई है।

बिजली संयंत्रों के बंद होने के कारण सिंध प्रांत के अधिकांश जिलों, दक्षिण पंजाब, मध्य पंजाब, लेस्को और इस्को क्षेत्र के अधिकांश इलाकों में बिजली बंद कर दी गई है। 

इलेक्ट्रिक के प्रवक्ता के मुताबिक, आज सुबह 7:34 बजे नेशनल ग्रिड में लो फ्रिक्वेंसी की वजह से कई शहरों की बिजली आपूर्ति प्रभावित हुई जिससे कराची की बिजली आपूर्ति प्रभावित हुई है। हमारा स्टाफ स्थिति का आकलन कर रहा है और बहाली की प्रक्रिया शुरू की जा रही है।

सूत्रों के अनुसार गुडू से क्वेटा तक बड़ी ट्रांसमिशन लाइन में खराबी के कारण ब्रेकडाउन हो गया है, ट्रांसमिशन लाइन और पावर प्लांट के बीच डिस्कनेक्शन के कारण बिजली की आवृत्ति कम हो गई है। कैस्केडिंग के कारण, एक के बाद एक बिजली संयंत्र ठप हो गए, लेकिन अन्य कारणों और समस्याओं का पता लगाया जा रहा है।

ऊर्जा मंत्रालय द्वारा बिजली आउटेज की पुष्टि की गई है। मंत्रालय के अनुसार, राष्ट्रीय ग्रिड में आवृत्ति कम हो गई है, जिससे बिजली व्यवस्था में व्यापक गिरावट आई है। इस बीच, इस्लामाबाद और पेशावर में कुछ ग्रिड स्टेशनों को बहाल कर दिया गया है।
msn