होम > मनोरंजन > यात्रा

पश्चिम बंगाल का यह छोटा पर्यटन स्थल कई ऐतिहासिक और पर्यटन स्थलों से भरा पड़ा है

पश्चिम बंगाल का यह छोटा पर्यटन स्थल कई ऐतिहासिक और पर्यटन स्थलों से भरा पड़ा है

भागीरथी नदी के तट पर स्थित मुर्शिदाबाद पश्चिम बंगाल का प्रमुख ऐतिहासिक शहर है। यह शहर ब्रिटिश औपनिवेशिक इतिहास के लिए जाना जाता है। पश्चिम बंगाल का यह छोटा पर्यटन स्थल कई ऐतिहासिक और पर्यटन स्थलों से भरा पड़ा है। यहाँ पर आप इतिहास की झलक के साथ साथ मुगल और ब्रिटिश शासन में निर्मित कई ऐतिहासिक संरचनाओं को देख सकेंगे।

बंगाल के नवाब अलीवर्दी खान के दामाद नवाजिश मुहम्मद खान ने झील की खुदाई की थी। इस झील के बगल में एक कीमती महल भी बनवाया जिसे संग-ए-दलन कहा जाता है । यह महल वर्ष 1740 में बनाया गया था। जिसे मोतीझील महल के नाम से भी जाना जाता है। मोतीझील में एक महल और एक सुंदर झील हुआ करती थी। यह महल नष्ट हो गया है अब यहाँ सिर्फ खँडहर ही बचे है। झील अभी भी जीवित है। 

मोतीझील पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद में एक घोड़े के नाल के आकार की खुबसूरत झील है। मोतीझील भागीरथी नदी के एक परित्यक्त क्षेत्र से बनी है। भागीरथी नदी पहले की तुलना में बहुत पास बहती थी। इस झील में बच्चो लिए वोटिंग भी उपलब्ध है। यह  पर्यावरण के लिए अनुकूल वातावरण, सुंदर और शांतिपूर्ण स्थल है। यह पौधों, फूलों, पेड़ों, घास और पक्षियों के कारण कई यात्रियों को आकर्षित करता है।

घूमने का सबसे अच्छा मौसम कौन सा है? 

मुर्शिदाबाद घूमने का सबसे अच्छा समय अक्टूबर से मार्च माह का है। मुर्शिदाबाद गर्मियों में बहुत गर्म होती हैं और सर्दियो में बहुत ठंडी होती हैं, सर्दियों के शुरुआती महीने सुखद रहते हैं और इसलिए यात्रा करने के लिए सबसे अच्छा समय है।