होम > राज्य > मध्यप्रदेश

मध्य प्रदेश के बुरे हालातों के लिए दो के, ‘के - कोरोना और के- कमल नाथ’ जिम्मेदार ; नरोत्तम मिश्रा

इंदौर| पिछले कुछ समय से मध्य प्रदेश में कोरोना से हुई आर्थिक और सामाजिक चुनौतियों के लिये राज्य के ग्रह मंत्री ने कमलनाथ को ज़िम्मेदार ठहराया है। 

मध्य प्रदेश के गृहमंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने राज्य के बुरे गुजरे 30 माह के काल के लिए तंज कस्ते हुए कहा की इन हालातों के लिए दो 'के के' कोरोना और कमल नाथ जिम्मेदार हैं। इस पर पलटवार करते हुए कांग्रेस ने गृहमंत्री मिश्रा के ज्ञान पर सवाल उठाया है। इंदौर प्रवास पर पहुंचे जिले के प्रभारी और राज्य के गृहमंत्री डॉ. मिश्रा ने संवाददाताओं से चर्चा के दौरान एक सवाल के जवाब में कहा कि राज्य के लिए बीते 30 माह बुरे रहे हैं, क्योंकि दो 'के के' ने प्रभावित किया है। पहला कमल नाथ और दूसरा कोरोना। इसने विकास को बहुत प्रभावित किया। कमल नाथ और कोरोना ने।

राज्य में पेटोल और डीजल की कीमतों के लिए भी गृहमंत्री ने पूर्ववर्ती कमल नाथ सरकार को जिम्मेदार ठहराते हुए कहा कि उनके कार्यकाल में जो टैक्स बढ़ा था वही है, हमने कोई टैक्स नहीं बढ़ाया।

गृहमंत्री के आरोपों का जवाब देते हुए कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता अजय सिंह यादव ने उनके ज्ञान पर सवाल उठाते हुए कहा, कोरोना काल में मध्यप्रदेश सरकार पूरी तरह असफल हुई, जनता को मूलभूत सुविधाएं नहीं दे पाई। साथ ही प्रदेश सरकार के प्रवक्ता अपना ज्ञान वर्धन करें कि कोरोना अंग्रेजी वल्र्डमाला के (के )अक्षर से अक्षर से नहीं सी से प्रारंभ होता है। आखिर प्रदेश के भी सम्मान का सवाल है, प्रदेश की गलत छवि देश में जाती है इसलिए मुख्यमंत्री प्रदेश के मंत्रियों का ज्ञानवर्धन करवायें।