उप्र : फिरोजाबाद में वायरल फीवर की चपेट में आए 12 हजार से अधिक लोग

उप्र : फिरोजाबाद में वायरल फीवर की चपेट में आए 12 हजार से अधिक लोग

उत्तर प्रदेश के फिरोजाबाद (Firozabad) जिले में वायरल फीवर का कहर जारी है। यहां 12,000 से अधिक लोग वायरल बुखार की चपेट में आए हैं। राज्य के स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने इसकी जानकारी दी है। जिले में पिछले 24 घंटों में चार और मौतें हुई हैं, जिससे मरने वालों की संख्या बढ़कर 114 हो गई है। इनमें 88 बच्चे शामिल हैं।


रुके हुए पानी को बाहर निकालने और वेक्टर जनित बीमारियों के प्रसार को रोकने के लिए बड़े पैमाने पर फॉगिंग और घर-घर सर्वे को अंजाम दिया जा रहा है। हालांकि इन सबके बावजूद मौतों का सिलसिला जारी है।


रविवार को इलाज के अभाव में अपने पांच साल के बेटे को खो देने वाले दिहाड़ी मजदूर वीर पाल ने संवाददाताओं को बताया कि शहर के एक निजी अस्पताल ने इलाज शुरू करने के लिए 30,000 रुपये एडवांस में मांगे थे।


बतौर वीर पाल, "मैंने उनसे कहा था कि वे इलाज शुरू करें, तब तक मैं कहीं से पैसे का इंतजाम करता हूं, लेकिन उन्होंने ऐसा करने से मना कर दिया। बाद में, मैं अपने बच्चे को फिरोजाबाद मेडिकल कॉलेज ले गया, जहां के स्टाफ ने बेड उपलब्ध न होने की वजह से मेरे बच्चे को एडमिट कराने से इनकार कर दिया। मैंने उसे आगरा ले जाने के लिए एक प्राइवेट टैक्सी की व्यवस्था की, लेकिन मेरे बेटे की रास्ते में ही मौत हो गई।"


फिरोजाबाद मेडिकल कॉलेज के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक (सीएमएस) हंसराज सिंह ने कहा कि इस मामले में कोई आधिकारिक शिकायत नहीं की गई है।


मुख्य चिकित्सा अधिकारी (सीएमओ) दिनेश कुमार प्रेमी ने कहा कि जिले में 64 सक्रिय शिविर हैं और बुखार वाले लोगों सहित 4,800 लोगों का वहां इलाज चल रहा है।


स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के मुताबिक, फिरोजाबाद में अब तक डेंगू के 578 मामलों की पुष्टि हो चुकी है।


0Comments