यूपी : लोगों के बचत के पैसे को लेकर फरार हुआ डाकिया, पासबुक में लगाई आग

यूपी : लोगों के बचत के पैसे को लेकर फरार हुआ डाकिया, पासबुक में लगाई आग

उत्तर प्रदेश के सहारनपुर (Saharanpur) से एक चौंकाने वाली घटना सामने आई है। यहां एक डाकिए ने कथित तौर पर नौ गांव के लोगों के डाकघर में जमा किए गए बचत के पैसे को लेकर फरार हो गया है।


डाकिए का नाम राकेश कुमार है। लोगों ने उसे पैसे जमा कराने को दिए, लेकिन उसने कभी इन्हें जमा ही नहीं कराया। उसने लोगों के पैसों को पहले अपने पास इकट्ठा किया और इन्हें लेकर फरार होने से पहले उसने सभी के पासबुक को आग के हवाले कर दिया। 


बेहट क्षेत्र के थाना प्रभारी (एसएचओ) के.पी. सिंह ने कहा, "डाकपाल राकेश कुमार मुजफ्फराबाद गांव में डाकघर का एक उपकेंद्र चला रहा था, जिसमें आसपास के नौ गांवों के लोगों के 2,000 से अधिक खाते थे। वह सारा पैसा लेकर भाग गया। अब हम उसकी तलाश कर रहे हैं। उसके बेटे को पकड़ लिया गया है और उससे पूछताछ की जा रही है।"


एसएचओ ने कहा कि डाकिया ने इन ग्रामीणों का कभी कोई खाता नहीं खोला। पुलिस ने सहारनपुर के मुख्य डाकघर से ग्रामीणों द्वारा दिए गए खाता नंबरों को सत्यापित करने की कोशिश की, तो वहां के अधिकारियों ने कहा कि इनमें से अधिकतर खाते या तो फर्जी थे या किसी और के स्वामित्व में थे।


एसएचओ ने कहा, "लगभग सभी खाते फर्जी थे। उन्होंने सैकड़ों लोगों को धोखा दिया, यहां तक कि पिछले कई दशकों से उनके साथ काम करने वालों को भी।"


खुर्रमपुर गांव के पूर्व प्रधान नेम चंद्र ने कहा कि उनके गांव की आबादी करीब 2,000 है और उनमें से अधिकांश का राकेश द्वारा संचालित डाकघर में कम से कम एक खाता है।


नेम चंद्रा ने दावा किया, "उसने पूरे गांव को लूट लिया और भाग गया। नौ गांवों में सैकड़ों लोगों को ठगा गया।"


ग्रामीणों ने अपनी सारी बचत खो दी है। कुछ ने अपने बच्चों की शादी के लिए पैसे बचाए थे तो कुछ ने अपनी पूरी बचत 'खाते' में जमा कर दी थी।


0Comments