होम > यू.पी.एस.सी

यूपीएससी एग्जाम क्लियर करने के लिए टॉपर से जानें महत्वपूर्ण टिप्स, क्लिक करें यहां

यूपीएससी एग्जाम क्लियर करने के लिए टॉपर से जानें महत्वपूर्ण टिप्स, क्लिक करें यहां

यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा में पास होना इस परीक्षा में बैठने वाले हर उम्मीदवार का सपना होता है। इस सपने को पूरा करने में खुद यूपीएससी के टॉपर की मदद मिल जाए तो तैयारी में सहायता हो जाती है। आज हम बताएंगे कुछ टिप्स जो खुद 2019 के यूपीएससी टॉपर प्रदीप सिंह मलिक ने फॉलो कर सफलता हासिल की। 


मीडिया को दिए एक इंटरव्यू में उन्होंने बताया कि मेहनत के साथ सही रणनीति, दृढ़ मानसिक संतुलन और लक्ष्य से न डगमगाना ही सफलता का मूल मंत्र है।


उन्होंने बताया कि वो साप्ताहिक सिलेबस लेकर पढ़ते थे। इस तरीके ने उनकी बहुत मदद की। वो घंटों की जगह सप्ताह भर का कार्यक्रम तक कर पढ़ते थे और तय सप्ताह में सिलेबस खत्म करते थे जिससे उन्हें बहुत सहायता मिली। ऐसे में जरूरी है कि सप्ताह के लक्ष्य तैयार किए जाए और उसे तभी निपटाएं।


टाइम मैनेजमेंट है जरूरी


उन्होंने कहा कि बिना टाइम मैनेज किए परीक्षा क्लियर करना संभव नहीं है। अगर टाइम मैनेजमेंट के साथ पढ़ाई करेंगे तो तय किए गए लक्ष्य को हासिल करना आसान हो जाता है। अपने साप्ताहिक लक्ष्य को हासिल करने के लिए एकाग्रता के साथ पढ़ाई करें। तैयारी के समय पूरा ध्यान तैयारी करने पर लगाएं और परिणाम के बारे में सोच कर समय व्यतीत न करें। 


एक एक मिनट है कीमती


पढ़ाई के दौरान का एक एक मिनट बेहद कीमती होता है। जो भी काम करें उसमें किसी भी तरह से समय बर्बाद न करें ताकि अधिक से अधिक समय पढ़ाई के लिए निकाल पाएं। चाहे यूपीएससी की तैयारी के साथ कॉलेज की पढ़ाई कर रहे हैं या नौकरी मगर समय बर्बाद करने से पहले बचें।


नकारात्मक न हों


पढ़ाई के समय एकाग्रता न खोएं। अपना ध्यान सिर्फ पढ़ाई पर बनाए रखें। पढ़ाई और तैयारी करे दौरान कई क्षण आते है जब लगता है कि लक्ष्य हासिल करना मुश्किल होगा। ऐसे समय को खुद पर हावी न होने दे और अपनी तैयारी जोर शोर से जारी रखें। खुद को विचलित न करते हुए धैर्य बनाए रखें। नेगेटिव लोगों से दूर रहें और लक्ष्य पर फोकस रखें।


फोकस है जरूरी


परीक्षा चाहे जैसी भी हो मगर फोकस बनाए रखना जरूरी होता है। परीक्षा में सफल होने के लिए लगातार कोशिश करते रहें। अपना फोकस परीक्षा क्लियर करने और अपने लक्ष्य पर बनाएं। फोकस जरा भी चूकने पर सफलता भी हाथ से खो सकती है।