मिशन रोजगार के तहत विगत सवा चार वर्षाें में सवा चार लाख युवाओं को सरकारी नौकरियां उपलब्ध करायी गयीं : सीएम योगी

मिशन रोजगार के तहत विगत सवा चार वर्षाें में सवा चार लाख युवाओं को सरकारी नौकरियां उपलब्ध करायी गयीं : सीएम योगी

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि उत्तर प्रदेश देश में सर्वाधिक आबादी एवं युवा आबादी वाला राज्य है। युवाओं की इस ऊर्जा का लाभ देश एवं प्रदेश को मिले, इसके लिए प्रदेश सरकार ने रोजगार एवं स्वरोजगार को निरन्तर बढ़ाने का प्रयास किया है।

मुख्यमंत्री लोक भवन में नवचयनित आबकारी निरीक्षकों को नियुक्ति पत्र वितरित करने के बाद अपने विचार व्यक्त कर रहे थे। उन्होंने नवचयनित 130 आबकारी निरीक्षकों को बधाई एवं शुभकामनाएं दीं। यह समस्त भर्तियां मिशन रोजगार के तहत निष्पक्ष एवं पारदर्शी प्रक्रिया के अन्तर्गत की गई हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि चयन की इस प्रक्रिया को उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग ने पूरी ईमानदारी, पारदर्शिता एवं शुचितापूर्ण तरीके से सम्पन्न किया है। प्रदेश सरकार आज आप सबको नियुक्ति पत्र प्रदान करते हुए शासकीय व्यवस्था का हिस्सा बना रही है। उन्होंने कहा कि एक लम्बे समय से आबकारी विभाग प्रदेश के अन्दर राजस्व प्राप्ति का एक साधन रहा है। आबकारी विभाग द्वारा अवैध मादक द्रव्यों की सप्लाई को रोकने तथा कानून व्यवस्था को बनाए रखते हुए आमजन के आचरण को संयमित रखने का कार्य किया जाता है। नवचयनित मानव संसाधन विभाग की व्यवस्था को मजबूत करेंगे।


मुख्यमंत्री ने कहा कि विगत सवा चार वर्षाें में सवा चार लाख युवाओं को सरकारी नौकरियां उपलब्ध करायी गयी हैं। सरकारी भर्तियों में निष्पक्षता, पारदर्शिता एवं नियुक्ति नियमों का पूरा ध्यान रखा गया है। इससे योग्य अभ्यर्थियों का ही चयन सम्भव हुआ है। उन्होंने कहा कि भर्ती प्रक्रिया में किसी भी युवा के साथ कोई भी अन्याय नहीं होना चाहिए। प्रदेश सरकार ने कानून का राज स्थापित करने के लिए कानून व्यवस्था को सुदृढ़ किया है। जिसके परिणामस्वरूप प्रदेश में निवेश अनुकूल माहौल विकसित हुआ है। प्रदेश में आने वाले निवेश के माध्यम से 1.61 करोड़ युवाओं को निजी क्षेत्र में रोजगार उपलब्ध कराया गया है। साथ ही, राज्य सरकार द्वारा 60 लाख से अधिक युवाओं को स्वरोजगार से भी जोड़ा गया है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार प्रदेश के युवाओं के बेहतर भविष्य के लिए सतत प्रयास कर रही है। आज सरकार की ईमानदारी पर कोई भी संदेह नहीं कर सकता। पूरी भर्ती प्रक्रियाएं पारदर्शी तरीके से सम्पन्न हो रही हैं। उन्होंने कहा कि युवा किसी के बहकावे में न आएं। नियुक्ति की प्रक्रियाएं आगे भी इसी प्रकार अनवरत चलती रहेंगी। सकारात्मक सोच और परिश्रम से युवा आगे बढ़ें। सरकार उनके साथ है और आगे भी रहेगी। ईमानदारी एवं शुचितापूर्ण व्यवस्था के खिलाफ आचरण करने वाले तत्वों पर सरकार ने सख्त कार्यवाही करते हुए अब तक 1500 करोड़ रुपए से अधिक की सम्पत्ति जब्त की है। उन्होंने नवचयनितों से कहा कि सरकार आपसे अपेक्षा रखती है कि आप अपने सेवा काल में पूर्ण ईमानदारी से निष्ठापूर्वक कार्य करेंगे।


मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकारी सेवक का कार्य जनता की सेवा करना है। जनता हमारी मालिक है। आम आदमी व्यवस्था को टैक्स देता है। उनके टैक्स के पैसे से ही वेतन, भत्ते एवं अन्य लाभ प्राप्त होते हैं। उन्होंने नवचयनितों का मार्गदर्शन करते हुए कहा कि आपके कार्याें से किसी निर्दाेष व्यक्ति को कोई परेशानी नहीं होनी चाहिए। हमारी यह जवाबदेही एवं दायित्व है कि हम सबके कल्याण के लिए कार्य करें। उन्होंने कहा कि कई विभागों ने पोर्टल बनाकर ट्रांसफर एवं पोस्टिंग की प्रक्रिया को पारदर्शी बनाया है। इस प्रक्रिया में कार्य दक्षता को वरीयता देनी चाहिए तथा अन्य विभागों में भी शीघ्र ही ऐसी ही पोर्टल व्यवस्था विकसित करनी चाहिए।


आबकारी एवं मद्यनिषेध मंत्री राम नरेश अग्निहोत्री ने कहा कि आबकारी विभाग ने 30 हजार करोड़ रुपए से अधिक का राजस्व योगदान प्रदेश की अर्थव्यवस्था में किया है। आबकारी विभाग के सहयोग से उद्यमियों द्वारा प्रदेश के विभिन्न जिलों में ऑक्सीजन प्लाण्ट निर्मित कराये जा रहे हैं। प्रदेश सरकार ने विगत सवा चार वर्षाें में कानून का राज स्थापित करते हुए आधारभूत संरचना एवं औद्योगिक विकास से रोजगार सृजन करते हुए पारदर्शी एवं निष्पक्ष तरीके से नियुक्तियां की हैं।

इस अवसर पर मुख्य सचिव आर0के0 तिवारी, अपर मुख्य सचिव आबकारी संजय आर0 भूसरेड्डी, अपर मुख्य सचिव सूचना एवं एम0एस0एम0ई0 नवनीत सहगल, प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री एवं सूचना संजय प्रसाद एवं निदेशक सूचना शिशिर उपस्थित थे। 

0Comments