नीति आयोग ने बताया कोवैक्सीन को WHO से कब तक मिलेगी मंजूरी, जानें यहां

नीति आयोग ने बताया कोवैक्सीन को WHO से कब तक मिलेगी मंजूरी, जानें यहां

कोवैक्सीन के आपातकालीन उपयोग को लेकर विश्व स्वास्थ्य संगठन इस महीने के अंत तक अपनी मंजूरी दे सकता है। इस मंजूरी के मिलते ही कोवैक्सीन अन्य देशों में उपयोग के लिए सुरक्षित मानी जाएगी। इस वैक्सीन को लगवाने के बाद अन्य देशों में बिना क्वारंटाइन हुए भी विदेश यात्रा की मंजूरी मिल सकेगी।


इस संबंध में नेशनल एक्सपर्ट कमेटी ऑन वैक्सीन एडमिनिस्ट्रेशन के चेयरमैन और नीति आयोग के सदस्य वीके पॉल ने मीडिया को जानकारी दी। उन्होंने कहा कि हम सकारात्मक विकास के बारे में जानते है।


डाटा शेयरिंग, डाटा इवेल्यूएशन की कई स्तर पर समीक्षा की गई है। हम विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा दिए जाने वाले फैसले के बेहद करीब है। हम महीने के अंत तक विश्व स्वास्थ्य संगठन की ओर से सकारात्मक फैसले की उम्मीद कर रहे है।


उन्होंने कहा कि कोवैक्सीन की समीक्षा के लिए विश्व स्वास्थ्य संगठन को पर्याप्त समय देना चाहिए। हमें उम्मीद है कि इस संबंध में फैसला जल्दी आएगा। इस फैसले के बाद कोवैक्सीन लगवाने वाले यात्रियों को अन्य देशों में यात्रा करने में सहूलियत होगी।


कोवैक्सीन के लिए नौ जुलाई को किया था आवेदन


बता दें कि स्वास्थ्य राज्य मंत्री भारती प्रवीण पवार ने कोवैक्सीन को लेकर संसद में ये जानकारी दी थी कि भारत बायोटेक ने 9 जुलाई को प्री क्वालिफिकेशन के लिए आवेदन किया था। इसके बाद से संगठन वैक्सीन की समीक्षा कर रहा है।


अब तक इन टीकों को मिली है मंजूरी


कोरोना संक्रमण के खिलाफ विश्व स्वास्थ्य संगठन ने अब तक अमेरिका की दवा कंपनी फाइजर-बायोएनटेक, जॉनसन एंड जॉनसन, मॉडर्ना, चीन की साइनो फार्मा और ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका द्वारा निर्मित टीकों को आपात उपयोग की अनुमति दी है।

0Comments