होम > खेल

महिला एशिया कप कम अनुभवी खिलाड़ियों को मौका देने के बारे में होगा : हरमनप्रीत कौर

महिला एशिया कप कम अनुभवी खिलाड़ियों को मौका देने के बारे में होगा : हरमनप्रीत कौर

भारतीय कप्तान हरमनप्रीत कौर ने संकेत दिए हैं कि शनिवार से यहां शुरू होने वाला महिला एशिया कप कम अनुभवी खिलाड़ियों को मौका देने के बारे में होगा क्योंकि टीम अगले साल की शुरुआत में होने वाले टी20 विश्व कप की तैयारी कर रही है।   

डी हेमलता और किरण नवगिरे को इंग्लैंड में पिछली श्रृंखला में आजमाया गया था लेकिन वे प्रभाव नहीं छोड़ सके थे। जेमिमा रोड्रिग्स कलाई की चोट से उबर गई हैं जिसके कारण वह इंग्लैंड श्रृंखला से बाहर हो गई हैं और उनके शनिवार को श्रीलंका के खिलाफ सलामी बल्लेबाज के रूप में खेलने की उम्मीद है। 

सलामी बल्लेबाज शेफाली इंग्लैंड में निराशाजनक प्रदर्शन के बाद सवालों के घेरे में हैं। टीम हालांकि वनडे में इंग्लैंड को 3-0 से हराकर आत्मविश्वास से ओतप्रोत है।

विश्व कप से पहले काफी टी20 मैच आ रहे हैं। जिन खिलाड़ियों को पर्याप्त मौके नहीं मिले हैं, उन्हें भी विश्व कप से पहले मैच का समय मिल सकता है। ऐसे कई क्षेत्र हैं जिन पर हम काम कर सकते हैं। हम देखेंगे कि क्या पहले छह ओवरों में किसी और को मौका मिल सकता है और बीच के ओवरों और डेथ ओवरों में भी खिलाड़ियों को आजमाया जा सकता है।

गेंदबाजी में भी हमें सही टीम संयोजन के लिए प्रयास करने की जरूरत है। हरमनप्रीत ने जेमिमा के बारे में फिटनेस अपडेट देते हुए कहा, 'जेमी ठीक है, उसने आज नेट्स पर बल्लेबाजी की।

टी20 विश्व कप अगले साल फरवरी में दक्षिण अफ्रीका में खेला जाएगा। 

उन्होंने 18 साल की शेफाली का भी समर्थन किया कि वह रन जुटाएं। 

वह नेट्स पर काफी अच्छा कर रही है। कभी-कभी आप उस फॉर्म को बीच में नहीं ले जा पाते हैं। आपको बीच में कुछ समय बिताने की जरूरत है और मुझे यकीन है कि वह अपना फॉर्म वापस पा लेगी। एशिया कप उनके लिए शानदार मंच होगा।

हम उसका आत्मविश्वास वापस पाने के लिए उसे पर्याप्त मैच देने की कोशिश करेंगे।

हरमनप्रीत ने हालांकि पिछले कुछ समय से अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया है और इंग्लैंड में 111 गेंदों पर नाबाद 143 रन की यादगार पारी खेली थी। भारतीय कप्तान ने कहा कि वह टीम की कप्तानी के रूप में अतिरिक्त जिम्मेदारी का आनंद ले रही हैं।

इंग्लैंड में श्रृंखला में दुर्लभ जीत पर उन्होंने कहा कि टीम की दीर्घकालिक योजनाएं आखिरकार फलीभूत हो रही हैं।

जब हम इंग्लैंड गए थे तो हम अच्छा क्रिकेट खेलना चाहते थे अभ्यास सत्र गणनात्मक थे। हमने कोई इतिहास रचने के बारे में नहीं सोचा था और हमारी योजनाएं अच्छी थीं और परिणाम आए। हमने लंबे समय से इसका इंतजार किया है, इसलिए हमें आश्चर्य नहीं हुआ।

प्रैक्टिस सेशन कैलकुलेटिव थे। हमने कोई इतिहास रचने के बारे में नहीं सोचा था और हमारी योजनाएं अच्छी थीं और परिणाम आए। हमने लंबे समय से इसका इंतजार किया है, इसलिए हमें आश्चर्य नहीं हुआ।

पिछले कुछ महीनों में, जिस तरह से हम एक टीम के रूप में खेले, हर कोई एक-दूसरे की मदद कर रहा था। हमें परिणाम प्राप्त करने के लिए ऐसा करते रहना होगा। वीडियो देखना और विपक्ष के लिए योजना बनाना मददगार रहा। हमें यहां भी सभी टीमों के लिए पर्याप्त डेटा मिला है।