कुकरैल नदी को पुनर्जीवित करने का कार्य शीघ्र शुरू होगा - नगर विकास मंत्री

कुकरैल नदी को पुनर्जीवित करने का कार्य शीघ्र शुरू होगा - नगर विकास मंत्री

आशुतोष टण्डन ’’गोपाल ’’मंत्री नगर विकास द्वारा संयुक्ता भाटिया महापौर नगर निगम लखनऊ की उपस्थिति में नगरीय झील/पोखर संरक्षण योजना के अन्तर्गत धनांक रू0 212.17 लाख से अतरौली गांव में स्थित तालाब (खसरा सं0 81/1) के संरक्षण व सौन्दर्यीकरण का कार्य, 15वें वित्त आयोग से स्वीकृति शंकरपुरवा वार्ड में जहिरापुर गांव में तालाब (धनांक रू0 135.51 लाख) व इस्माइलगंज द्वितीय वार्ड में कल्याणी बिहार तालाब संरक्षण (धनांक रू0 85.73 लाख) अर्थात कुल धनांक रू0 433.21 लाख के तालाब सौन्दर्यीकरण परियोजना का शिलान्यास किया गया। उक्त के अतिरिक्त नगर निगम निधि से लखनऊ पूर्व विधान सभा के विभिन्न वार्डों में 19 मार्गों के कुल रू0 धनांक रू0 283.43 लाख के सड़क सुधार कार्यों का शिलान्यास किया गया। उपरोक्त तीन तालाबों के सौन्दर्यीकरण कार्य एवं 19 मार्गों के निर्माण कार्यों से वहॉ की जनता के समस्याओं का निस्तारण होगा एवं जल संचयन में वृद्धि होगी।

उत्तर प्रदेश के नगर विकास मंत्री आशुतोष टण्डन ने आज कहा है कि कुकरैल नदी को प्रदेश सरकार पुनर्जीवित करेगी। इसके लिये 75 करोड़ रूपये की स्वीकृति के बाद नालों के डायवर्जन के लिये टेण्डर आदि का कार्य हो चुका है और नदी को पुनर्जीवित करने का कार्य शीघ्र ही शुरू हो जायेगा। नगर विकास मंत्री ने कहा कि लखनऊ नगर से प्रवाहित नहर को प्रदेश सरकार ने निष्प्रयोज्य घोषित करने के लिए प्रस्ताव कैबिनेट की स्वीकृति के लिये प्रस्तुत किया है और आशा है कि उस नहर पर सड़क निर्माण का कार्य शीघ्र प्रारम्भ हो जायेगा, जिससे एक बड़ी आबादी को आवागमन की सुविधा मिल जायेगी। 1000 पार्कों पर नगर निगम एवं लखनऊ विकास प्राधिकरण द्वारा कार्य भी शुरू होने जा रहा है। नगर निगम 750 पार्कों का और लखनऊ विकास प्राधिकरण 250 पार्कों का विकास एवं सौन्दर्यीकरण करेगा। उन्होने कहा कि नगर निगम की प्रयासों से स्वच्छता सर्वेक्षण में जो लखनऊ 2017 से पहले 269 नम्बर पर था वह अगले साल 116 फिर 121 और पिछले वर्ष 12 नम्बर पर आया है।  


नगर विकास मंत्री ने इस अवसर पर अपनी लखनऊ पूर्वी विधान सभा क्षेत्र में कराये गये सड़क/बिजली/जलनिकासी/पार्को का सौन्दर्यीकरण/पाइपलाइन/तालाबों का विकास/बिजली स्टेशनों का निर्माण आदि पर विस्तार से चर्चा की और कहा कि पिछले चार वर्ष में लखनऊ पूर्वी विधान सभा क्षेत्र को नगरीय सुविधाओं के रूप में काफी प्रगति हासिल हुई है।

इसके पूर्व महापौर लखनऊ, संयुक्ता भाटिया ने नगर विकास मंत्री का स्वागत करते हुए नगर निगम के उत्कृष्ट कार्योे का विवरण दिया और बताया कि किस तरह नगर निगम के अधिकारियों/कर्मचारियों ने जान की बाजी लगाते हुए कोरोना काल में पूरे नगर वासियों की सेवा की, फॉगिंग एवं सफाई की। उन्होंने कहा कि नागरिक सेवाओं में उत्कृष्टता लाना ही हमारा उद्देश्य है।

कार्यक्रम के अन्त में नगर आयुक्त अजय कुमार द्विवेदी ने कार्यक्रम की सफलता के लिए सभी का धन्यवाद ज्ञापन किया। शिलान्यास कार्यक्रम में पार्षदगणो में अरूण तिवारी, राजेश सिंह गब्बर, प्रमोद सिंह राजन, हरीशचन्द्र लोधी, मिथलेश चौहान, हेमा सनवाल, अनीता पाल, रामकुमार वर्मा, मनोज अवस्थी, राकेश मिश्रा (नामित पार्षद), के0के0 जायसवाल (नामित पार्षद), शैलेन्द्र राय मण्डल अध्यक्ष-1, कृष्ण प्रताप सिंह मण्डल अध्यक्ष-2, देवेन्द्र वर्मा मण्डल अध्यक्ष-3, योगेश चतुर्वेदी मण्डल अध्यक्ष-4, रमेश तूफानी सदस्य अनुसूचित जाति एवं जनजाति आयोग सहित गणमान्य नागरिक उपस्थित रहे।

0Comments