होम > अजब गजब

यहां पूरे परिवार की सुरक्षा के लिए महिलाएं सहती हैं असहनीय दर्द, जानकर यकीन करना होगा मुश्किल

यहां पूरे परिवार की सुरक्षा के लिए महिलाएं सहती हैं असहनीय दर्द, जानकर यकीन करना होगा मुश्किल

ये तो हम सभी जानते हैं कि दुनिया में तमाम तरह की रस्में निभाई जाती हैं, लेकिन कई बार ये रस्में औरतों पर भारी पड़ जाती हैं। उन्हें इसके लिए एक बड़ी कीमत चुकानी पड़ती है। आज हम आपको एक ऐसे ही रिवाज के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसमें परिवार के मुखिया के निधन के बाद घर की महिलाओं को अपनी उंगलियां कटवानी पड़ती है।


यहां इंडोनेशिया के पापुआ में बसने वाले आदिवासी दानी जाति की बात की जा रही है। इस कबीले की महिलाएं बस यही चाहती रहती हैं कि उनके परिवार के मुखिया को बहुत अधिक लंबी उम्र मिले। महिलाओं की इस ख्वाहिश के पीछे एक दिल दहला देने वाली परंपरा है, जिसके मुताबिक अगर परिवार के मुखिया की मौत हो जाती है, तो परिवार की महिलाओं की उंगलियां काट दी जाती है। 


सुनने में भले ही यह अजीब लगे, लेकिन यह सच है। 


दानी जाति का खान-पान, रहन—सहन, रस्मों—रिवाज सभी बेहद अलग तरीके के होते हैं। शहरी सभ्यता से इनका कोई वास्ता नहीं है।


दानी जाति के लोगों का विश्वास है कि ऐसा करने से मरने वाले की आत्मा को शांति प्राप्त होती। ऐसी भी मान्यता है कि यह मरने वाले के प्रति श्रद्धांजलि अर्पित करने का सबसे सही तरीका है, इससे परिवार को आने वाले कष्टों से मुक्ति मिलती है। यह भी माना जाता है कि औरत के द्वारा उंगली का दान देने पर मरने वाला शख्स भूत बनकर परिवार को नहीं सताएगा।


आपको बता दें कि इस परंपरा का र्निवाह भी बेहद क्रूर तरीके से किया जाता है। सबसे पहले उंगली के निचले हिस्से को रस्सी से कस कर बांध दिया जाता है, ताकि खून का प्रवाह रुक जाए। इसके बाद कुल्हाड़ी से उंगलियों को काट दिया जाता और इस दर्द से केवल महिलाओं को ही गुजरना पड़ता है। 


अच्छी बात यह है कि वर्तमान समय में सरकार ने इस परंपरा पर रोक लगा दी है, लेकिन आज भी कई बार इस तरह की घटनाएं यहां सुनने को मिल ही जाती हैं।