होम > क्राइम

साउथ पोल पर पहुंची पहली गैर श्वेत भारतीय मूल की महिला, 40 दिनों में पूरा किया ट्रैक

साउथ पोल पर पहुंची पहली गैर श्वेत भारतीय मूल की महिला, 40 दिनों में पूरा किया ट्रैक

प्रीत चंडी जो ब्रिटिश मूल की सिख आर्मी ऑफिसर है, उन्होंने एक बड़ी उपलब्धि हासिल की है। वो साउथ पोल ट्रिप करने वाली पहली 'गैर श्वेत महिला' बन गई हैं। इस उपलब्धि की जानकारी उन्होंने इस वर्ष तीन जनवरी को साझा की है। 

उन्होंने बताया कि 40 दिनों में 1126 किमी का ट्रैक पूरा कर लिया है।


उनकी ये यात्रा 7 नवंबर 2021 को शुरू हुई थी। इस दौरैन वो माइनस 50 डिग्री के तापमान में वह 40 दिन तक अकेले चलती रही। इसके बाद उन्हें लक्ष्य हासिल करने में सफलता मिली। साउथ पोल ट्रिप कर इतिहास रचने वाली प्रीत ने अपनी यात्रा की शुरुआत अंटार्कटिका के हरफ्यूलिस इनलेट से शुरू की थी।


मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, उन्होंने कुछ हफ्ते अकेले स्कींग करते हुए अंर्टर्कटिका में बिताए। इस बारे में प्रीत ने अपने ब्लॉग पर लिखा है। उन्होंने लिखा,' मैं अभी बहुत सारी भावनाओं को महूसस कर रही हूं'।


दूसरे होंगे प्रेरित- प्रीत


इस असाधारण उपलब्धि को हासिल करने वाली 32 साल की प्रीत ने मीडिया को बताया कि उन्हें उम्मीद है कि उनका साहसिक कदम और काम दूसरों को अपनी सीमाओं को आगे बढ़ने की प्रेरणा देगा। इसके बाद लोग खुद पर भरोसा करने के लिए प्रोत्साहित होंगे। साउथ पोल की यात्रा पूरी करने के बाद उन्होंने कहा कि अंटार्किटका पृथ्वी पर सबसे ठंड, ऊंचा, शुष्क और हवा वाला महाद्वीप है।


उन्होंने बताया कि वहां किसी तरह का स्थायी घर नहीं है। कोई वहां स्थायी तौर पर नहीं रहता है। ये इलाका इतना ठंडा है कि यहां का तापमान माइनस 50 डिग्री से भी नीचे जला जाता है। प्रीत ने बताया जब पहली बार इस ट्रिप की प्लानिंग की तो उस समय इस महाद्वीप के बारे में ज्यादा जानकारी नहीं थी, लेकिन वहां जाने की इच्छा जरुर थी। इस ट्रिप की शुरुआत से पहले उन्होंने पूरे ढाई साल तक खुद को तैयार किया है।


ट्रिप के लिए ली ट्रेनिंग 


प्रीत ने बताया कि अपने लक्ष्य को पूरा करने के लिए उन्होंने फ्रेंच आल्प्स में क्रेवास से ट्रेनिंग भी ली। इस यात्रा के दौरान उन्होंने आइसलैंड के लैंगजोकुल ग्लेशियर में ट्रेकिंग की। उन्होंने ग्रीनलैंड में आइस कैप में लगभग 27 दिन बिताए। इस पूरे ट्रिप के दौरान वो कुछ ही लोगों के संपर्क में रही। इसमें वो लोग थे जो उनके ब्लाग और इंस्टाग्राम को अपडेट करते थे।' बता दें कि अपने मिशन को पूरा करन के लिए प्रीत ने अपने साथ कुछ जरूरी सामान भी रखा था। जिसमें एक कीट, ईंधन और भोजन शामिल है।