होम > सेहत और स्वास्थ्य

घर पर रहकर योग से करें डेंगू का इलाज, आयुष मंत्रालय ने बताया तरीका

घर पर रहकर योग से करें डेंगू का इलाज, आयुष मंत्रालय ने बताया तरीका

इन दिनों उत्तर प्रदेश समेत देश के कई राज्यों में डेंगू का प्रकोप है। कोरोना के साथ डेंगू की दोहरी मार झेलनी पड़ रही है। इस समय अस्पतालों में डेंगू और वायरल बुखार के सैकड़ों मरीज अस्पताल में भर्ती है।


वहीं डेंगू के बढ़ते मामलों में बीच केंद्र सरकार के आयुष मंत्रालय ने इलाज के लिए प्राकृतिक चिकित्सा और योग को अपनाने की सलाह दी है। 


आयुष मंत्रालय के मुताबिक योग और प्राकृतिक चिकित्सा पद्धति से भी डेंगू का इलाज संभव है। इसके लिए मंत्रालय ने गाइड लाइन भी जारी की है। 


इसके तहत बताया गया कि डेंगू होने पर घबराने की आवश्यकता नहीं है। यही नहीं हर मरीज को अस्पताल में भर्ती भी नहीं होना पड़ता। यहां तक की मरीज घर पर रहते हुए इलाज कर सकता है। डेंगू बुखार होने पर शरीर का तापमान अधिक बढ़ जाता है। ऐसे में जरूरी है कि तापमान को सामान्य बनाए रखें। 


ऐसे करें इलाज


आयुष मंत्रालय के मुताबिक डेंगू के मरीज को व्रत रखने से लाभ होता है। इस दौरान सिर्फ लिक्विड डाइट या फलों का सेवन करना लाभदायक हो सकता है। इस दौरान सिर्फ पानी का सहारा न लें बल्कि जूस का सेवन भी करते रहें। इसके अलावा हल्का या सुपाच्य खाना भी खाया जा सकता है।


मरीज नारियल पानी, नींबू और शहद का पानी, गेहूं की घास का जूस भी पी सकते है। पीने के लिए मरीज सादा पानी गुनगुना करके भी पी सकते है। ये सेहत को लाभ पहुंचाता है। 


बर्फ की सिकाई और योग से मिलेगा आराम


डेंगू के बुखार में बर्फ की सिकाई करना लाभदायक होता है। बर्फ के पैकेट को मरीज के माथे और पेट पर रखना चाहिए। कुछ समय पेट और माथे की सिकाई करें। हर दो घंटे में ऐसा करें जब तक शरीर का तापमान सामान्य न हो जाए।


अनुलोम विलोम करने से होगा लाभ


डेंगू के मरीज को नाड़ी शुद्धि या अनुलोम विलोम प्राणायाम, भ्रामरी प्राणायाम या शीतली करना चाहिए। इससे मरीज की सेहत में सुधार होता है। दिन में दो से नौ बार तक इसे करना होता है। इसके अलावा दवाइयों से उपचार करना भी फायदा पहुंचा सकता है, लेकिन दवाइयों का सेवन डॉक्टर की सलाह पर ही करें।

0Comments