होम > व्यापार और अर्थव्यवस्था

प्रगति मैदान में 14 नवंबर से होगा भारत अंतर्राष्ट्री य व्यापार मेले के 40वें संस्करण का आयोजन

प्रगति मैदान में 14 नवंबर से होगा भारत अंतर्राष्ट्री य व्यापार मेले के 40वें संस्करण का आयोजन

नई दिल्ली। भारत व्यापार संवर्धन संगठन (आईटीपीओ) का भव्य कार्यक्रम भारत अंतर्राष्‍ट्रीय व्यापार मेले (आईआईटीएफ) का 40वां संस्करण इस वर्ष अपनी थीम आत्मनिर्भर भारतप्रदर्शित करेगा जिसमें अर्थव्यवस्था, निर्यात क्षमता, अवसंरचना आपूर्ति श्रृंखला, मांग तथा जीवंत जनसांख्यिकी पर फोकस होगा।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के विजन से प्रेरित, यह कार्यक्रम 14 से 27 नवंबर तक अंतर्राष्‍ट्रीय प्रदर्शनी सह सम्मेलन केंद्र (आईईसीसी) के नवनिर्मित हॉल तथा नई दिल्ली के प्रगति मैदान के वर्तमान हॉल में भारत की स्वतंत्रता के 75 वें वर्ष के समारोह ‘‘ आजादी का अमृत महोत्सवके एक हिस्से के रूप में आयोजित किया जाएगा। इस मेले का आयोजन महामारी के प्रकोप को रोकने के लिए बचाव संबंधी उपायों के अनुरूप किया जाएगा।

यह मेला व्यवसाय समुदाय की अटूट भावना को भी प्रदर्शित करता है जिन्हें महामारी के कारण जबर्दस्त चुनौतियों का सामना करना पड़ा। महत्वपूर्ण बात यह है कि यह थीम ब्रांडों की उत्कृष्टता प्रदर्शित करने तथा कृषि, सूक्ष्म, लघु एवं मझोले उद्यम, (एमएसएमई), बिजली, पर्यटन आदि जैसे सेक्टरों में विकास तथा आत्मनिर्भरता अर्जित करने के लिए नए अवसरों को सृजित करने के उनके संकल्प को भी प्रदर्शित करती है।

बी2बी तथा बी2सी घटकों के साथ आईआईटीएफ दक्षिण एशिया क्षेत्र में सबसे बड़े समेकित व्यापार मेलों में एक है। आईआईटीएफ के प्रारूप में व्यवसाय, सामाजिक, सांस्कृतिक तथा शैक्षणिक आयाम शामिल हैं जिन्हें इस प्रकार पिरोया गया है जहां आगंतुक तथा प्रदर्शक, मीडियाकर्मी, मार्केटिंग से जुड़े व्यावसायी, सामाजिक कार्यकर्ता, एनजीओ आदि अपने-अपने उद्वेश्यों की खोज के लिए एकत्र होते हैं। घरेलू के साथ साथ विदेशी खरीदार भी अपनी आवश्यकताओं की पूर्ति करते हैं। कई सरकारी संगठन तथा विभाग इस मंच का उपयोग आम लोगों के बीच अपने कार्यक्रमों तथा नीतियों के बारे में जागरूकता फैलाने के लिए करते हैं। भारत के लगभग सभी राज्य और केंद्रशासित प्रदेश इस मेगा कार्यक्रम में भाग लेते हैं जो लघु-भारत' को प्रदर्शित करता है।

व्यापार एवं उद्योग से संबंधित सम्मेलनों तथा संगोष्ठियों के अतिरिक्त, आईआईटीएफ मेला परिसरों में महत्वपूर्ण स्थानों पर लगे विशाल एलईडी स्क्रीनों पर ब्रांडिंग का अवसर भी प्रस्तुत करता है। इसके अतिरिक्त, अन्य प्रमुख आकर्षणों तथा प्रमोशन संबंधी सुविधाओं में: मोबाइल ऐप्लीकेशन, निवेश तथा संयूक्त उद्यम अवसर, प्रौद्योगिकी हस्तांतरण विकल्प, स्टार्ट अप्स तथा एसएमई सांस्कृतिक एवं राज्य दिवस समारोह शामिल हैं।

भागीदारों तथा आगंतुकों के लिए मेले को सुविधाजनक बनाने के लिए व्यापक प्रबंध किए जा रहे हैं। इनमें शामिल हैं: प्रोटोकॉल की सुविधा, मीडिया केंद्र तथा अंतर्राष्‍ट्रीय बिजनेस लाउंज, दिव्यांगजनों के लिए व्हीलचेयर, चुने हुए मेट्रो स्टेशनों पर एंट्री टिकटों की बिक्री, बैंक एवं एटीएम, अग्नि शमन केंद्र, एंबुलेस तथा प्राथमिक स्वास्थ्य चिकित्सा सुविधा, फूड आउटलेट तथा राज्यों के व्यंजन।

इस वर्ष प्रतिभागियों/प्रदर्शकों के लिए सीमित पार्किंग उपलब्ध है तथा किसी भी गेट पर जन्म की तिथि संबंधी वैध सरकारी पहचान पत्र प्रदर्शित करने पर वरिष्ठ नागरिकों तथा दिव्यांगजनों के लिए मेले के सभी दिनों में नि:शुल्क प्रवेश की सुविधा उपलब्ध कराई गई है। उनके साथ आने वाले को एंट्री टिकट लेनी पड़ेगी।

(मेधज न्यूज़ / श्री राम शॉ

बढ़ते अपराधों के खिलाफ पटना के व्यापारी सड़कों पर उतरे, किया प्रदर्शन

डा0 नवनीत सहगल ने स्थानीय स्तर पर उद्यमियों तथा व्यापारियों की समस्याओ का निराकरण प्राथमिकता से करने के दिये निर्देश