होम > व्यापार और अर्थव्यवस्था

IndiGo की मुश्किलें बढ़ीं, DGCA जारी करेगा कारण बताओ नोटिस, जांच के लिए टीम का गठन

IndiGo की मुश्किलें बढ़ीं, DGCA जारी करेगा कारण बताओ नोटिस, जांच के लिए टीम का गठन

नई दिल्ली | नागर विमानन निदेशालय ( DGCA ) रांची एयरपोर्ट पर गत 7 मई को एक दिव्यांग बच्चे को बोर्डिग नहीं करने देने के मामले में विमानन कंपनी इंडिगो ( IndiGo ) के खिलाफ कारण बताओ नोटिस जारी करेगा। डीजीसीए ने वक्तव्य जारी करते हुये कहा है कि इस घटना के परिप्रेक्ष्य में इंडिगो के खिलाफ कारण बताओ नोटिस जारी करने का फैसला लिया गया है। इंडिगो को यह बताना होगा कि आखिर क्यों उसके खिलाफ कार्रवाई नहीं की जाये। DGCA ने इस मामले की जांच के लिये तीन सदस्यीय टीम का गठन किया है।


गत सात मई को रांची एयरपोर्ट ( Ranchi Airport ) पर IndiGo के कर्मचारियों ने रांची से हैदराबाद जाने वाले विमान में एक दिव्यांग बच्चे को बोर्डिग नहीं करने दी थी। विमानन कंपनी का तर्क था कि वह बच्चा दहशत में था। विमान में बच्चा और उसके माता-पिता सवार नहीं हो पाये थे। डीजीसीए ने कहा है कि इंडिगो को 26 मई तक लिखित जवाब देने और निजी रूप से अपना पक्ष करने का अवसर दिया गया है। इंडिगो का पक्ष सुनने के बाद ही कानून के अनुसार उचित कार्रवाई की जायेगी।


इंडिगो की इस हरकत की नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ( Jyotiraditya Scindia ) ने कटु आलोचना करते हुये कहा था कि इस तरह के बर्ताव को कतई बर्दाश्त नहीं किया जा सकता है। उन्होंने कहा था कि किसी भी इंसान को इस तरह की स्थिति से गुजरना नहीं चाहिये और वह खुद इस मामले की जांच करेंगे, जिसके बाद कार्रवाई की जायेगी। इंडिगो के सीईओ रंजोय दत्ता ने कहा है कि पूरे मामले की समीक्षा के बाद कंपनी को लगता है कि उसने कठित परिस्थितियों में सबसे बेहतर निर्णय लिया।