होम > व्यापार और अर्थव्यवस्था

विनोद कन्नन ने Vistara के CEO का पदभार संभाला, जानिए इनके बारे में सबकुछ

विनोद कन्नन ने Vistara के CEO का पदभार संभाला, जानिए इनके बारे में सबकुछ

नई दिल्ली | फुल-सर्विस कैरियर विस्तारा (Vistara) ने शनिवार को कहा कि विनोद कन्नन (Vinod Kannan) को 1 जनवरी से एयरलाइन का मुख्य कार्यकारी अधिकारी (CEO) नियुक्त किया गया है। इसके अलावा, दीपक राजावत को विस्तारा के मुख्य वाणिज्यिक अधिकारी की भूमिका निभाने के लिए पदोन्नत किया गया है।


एक बयान में कहा गया, कन्नन जून, 2019 में मुख्य रणनीति अधिकारी के रूप में विस्तारा से जुड़े थे। उन्होंने जनवरी, 2020 में मुख्य वाणिज्यिक अधिकारी का पदभार संभाला था।


बयान के अनुसार, उन्होंने जनवरी 2020 में विस्तारा की कॉपोर्रेट रणनीति को विकसित करने, क्रियान्वित करने और बनाए रखने और एयरलाइन की व्यावसायिक सफलता सुनिश्चित करने की जिम्मेदारी के साथ मुख्य वाणिज्यिक अधिकारी के रूप में कार्यभार संभाला था।


इसमें कहा गया है, उन्होंने विस्तारा के अंतरराष्ट्रीय परिचालन को शुरू करने, अपने घरेलू नेटवर्क का विस्तार करने, बेड़े के आकार और महामारी के दौरान एयरलाइन की स्थिर वृद्धि को आगे बढ़ाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।


कन्नन ने सिंगापुर एयरलाइंस (SIA) के साथ काम करते हुए दो दशक से अधिक समय बिताया है और सिंगापुर के साथ-साथ विदेशों में एयरलाइन के प्रधान कार्यालय में कई वरिष्ठ पदों पर कार्य किया है।


उन्होंने नेशनल यूनिवर्सिटी ऑफ सिंगापुर (NUS) और यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफोर्निया, लॉस एंजिल्स (UCLA) से बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन में मास्टर डिग्री प्राप्त की है।


इसके अलावा, बयान में कहा गया है कि दीपक राजावत, नए मुख्य वाणिज्यिक अधिकारी, स्थापना के बाद से विस्तारा के साथ रहे हैं और उन्होंने कॉपोर्रेट योजना और वित्त कार्यों में कई नेतृत्व भूमिकाएं निभाई हैं।


वह 31 दिसंबर 2021 तक एयरलाइन के साथ मंडल उपाध्यक्ष और कॉपोर्रेट योजना के प्रमुख थे।


बयान के अनुसार, अपनी नई भूमिका में वह विस्तारा के रणनीतिक और वाणिज्यिक कार्यों के एक विस्तृत पोर्टफोलियो का नेतृत्व करेंगे, जिसमें मूल्य निर्धारण और राजस्व प्रबंधन, नेटवर्क योजना, बिक्री और वितरण, साझेदारी और गठबंधन, उत्पाद विकास, इन-फ्लाइट सेवाएं आदि शामिल हैं।


टाटा एसआईए एयरलाइंस, जिसे विस्तारा ब्रांड नाम से जाना जाता है, टाटा संस और एसआईए के बीच 51:49 का संयुक्त उद्यम (ज्वाइंट वेंचर) है।


इसने 9 जनवरी, 2015 को वाणिज्यिक परिचालन शुरू किया था। विस्तारा के पास 51 विमानों का बेड़ा है और परिचालन शुरू करने के बाद से इसने अब तक 3 करोड़ से अधिक ग्राहकों को सेवाएं प्रदान की है।