होम > क्राइम

पहले ट्वीट करके पुलिस पर दबाव बनाकर FIR करवाते , फिर आरोपियों से समझौता कर बड़ी रकम लेते

पहले ट्वीट करके पुलिस पर दबाव बनाकर  FIR करवाते , फिर आरोपियों से समझौता कर बड़ी रकम लेते

नोएडा पुलिस ने एक ऐसे गिरोह का खुलासा किया है जो पहले तो ट्वीट के माध्यम से पुलिस पर दबाव बनाते  थे फिर मामला दर्ज करवाते  और उसके बाद  एफआईआर में लिखे गए आरोपियों से समझौता करवाने के बहाने पर बड़ी रकम लेते  है।

जेवर के थाना प्रभारी अंजनि कुमार सिंह ने सूचना दी है  कि थाना क्षेत्र के गोपालगढ़ गांव के निवासी एक व्यक्ति ने 10 दिन पहले एक मामला दर्ज कराया था कि कुछ लोग सोशल मीडिया पर उन्हें ब्लैकमेल कर रहे  हैं और  इसके लिए फिर रूपये  मांग रहे हैं।

थाना प्रभारी ने यह भी बताया कि जांच करने के दौरान यह पता चला कि जेवर में गांव साबौता के रहने वाले महिपाल तथा जौनपुर जिला के रहने वाले  प्रकाश पांडे मिलकर जनता दरबार के नाम से एक ट्विटर चलाते हैं। इन लोगो के संपर्क में जो लोग आते हैं ये उन लोगो की समस्या को सोशल मिडिया पर डाल कर और ट्वीट करके पुलिस पर दबाव बनाते हैं और फिर उस केस को थाने में दर्ज करवाते  हैं  और फिर जिनके ऊपर केस दर्ज होते  हैं  उनसे फिर संपर्क करते हैं और समझौता कराने के बहाने पर बड़ी रकम मांगते  हैं।

पूछताछ करने से  पुलिस को यह  पता चला है कि उन्होंने ट्विटर से कई और लोगों के खिलाफ मामला दर्ज हुआ  है और अब तक उन लोगो से यह गिरोह लाखों रुपये की वसूली  की है। उन्होंने बताया है  कि पुलिस गिरफ्तार हुए दोनों आरोपियों को वहाँ के स्थानीय अदालत में पेश करेगी।


मिया खलीफा के इस अंदाज ने उड़ाए लोगो के होश