होम > क्राइम

माँ ने की अपनी ही बेटी की बेहरमी से हत्या

माँ ने की अपनी ही बेटी की बेहरमी से हत्या

माँ ने की अपनी ही बेटी की बेहरमी से हत्या

पुलिस ने कहा कि महिला ने अपनी बेटी की हत्या करने की बात कबूल की, जिसके बाद दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया। राजस्थान के श्रीगंगानगर में एक विवाहिता ने अपनी तीन साल की बेटी की हत्या कर शव चलती ट्रेन से फेंक दिया। 

पुलिस के मुताबिक, महिला ने सोमवार और मंगलवार की दरमियानी रात अपनी बेटी का गला दबाया और फिर प्रेमी की मदद से उसके शव को चादर में लपेट दिया। इसके बाद दोनों श्रीगंगानगर रेलवे स्टेशन गए, ट्रेन में सवार हुए और चलती ट्रेन से शव को गिरा दिया। पुलिस ने बताया कि आरोपियों की पहचान सुनीता और सन्नी उर्फ ​​माल्टा के रूप में हुई है, जिन्हें गिरफ्तार कर लिया गया है। सुनीता ने अपनी बेटी की हत्या करना कबूल किया, जिसके बाद दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया।

पुलिस अधीक्षक (श्रीगंगानगर) आनंद शर्मा ने बताया, "महिला ने अपनी बेटी किरण का गला घोंट दिया, सनी की मदद से उसके शव को चादर में लपेट दिया और श्रीगंगानगर रेलवे स्टेशन चली गई।" अधिकारी ने कहा, "वे सुबह 6:10 बजे एक ट्रेन में सवार हुए और जब वह फतुही रेलवे स्टेशन से पहले एक नहर पर बने पुल पर पहुंची, तो उन्होंने शव को चलती ट्रेन से गिरा दिया।"

दोनों ने शव को नहर में फेंकने की योजना बनाई थी, लेकिन वह रेलवे ट्रैक के पास गिर गया। गुरुवार सुबह शव बरामद किया गया। पांच बच्चों वाली सुनीता शास्त्री नगर में सनी और अपनी दो बेटियों के साथ रहती हैं, जबकि तीन बच्चे पति के साथ रहते हैं। लड़की की शिनाख्त के बाद पुलिस ने सुनीता का पता लगाया और पूछताछ के लिए बुलाया। पुलिस ने कहा कि पूछताछ के दौरान उसने अपनी बेटी की हत्या करने की बात कबूल की, जिसके बाद दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया।