होम > क्राइम

गुरुग्राम में पड़ोसियों से अपने कुत्ते को बांध कर रखने के लिए कहने पर दो पर धारदार हथियारों से हमला

गुरुग्राम में पड़ोसियों से अपने कुत्ते को बांध कर रखने के लिए कहने पर दो पर धारदार हथियारों से हमला

पटौदी में उनके बेटे सहित एक अधेड़ उम्र के व्यक्ति के साथ मारपीट की गई। कारण दोनों ने अपने पड़ोसी परिवार को अपने कुत्ते को बांध कर रखने के लिए कहा है, घटना 15 जुलाई को बासपदमका गांव की है। एक अधेड़ उम्र के व्यक्ति के साथ उसके बेटे के साथ मारपीट की गई कारण दोनों ने अपने पड़ोसी परिवार को अपने कुत्ते को बांध कर रखने के लिए कहा है, पुलिस ने कहा। यह घटना 15 जुलाई को बासपदमका गांव में हुई थी। हालांकि, पीड़ितों ने अपनी चोटों से उबरने के बाद 4 अगस्त को पुलिस से संपर्क किया।

पीड़ितों की पहचान इस प्रकार की गई हैसुभाष चांदो (52) और उसका बेटा दिनेश कुमार (32)। पीड़ितों पर पड़ोसियों द्वारा धारदार हथियारों, छड़ों और ईंटों से हमला किया गया था। पुलिस ने बताया कि चंद और कुमार दोनों को कई टांके लगे। कुमार की बायीं आंख में भी चोट आई, जिससे आंशिक दृष्टि हानि हुई।

चंद का आरोप है कि पड़ोसी के कुत्ते ने उनके छोटे बेटे को काटा योगेश कुमार(30) फरवरी 2022 में लेकिन उन्होंने उस समय शिकायत दर्ज नहीं की। "हमारे पड़ोसी कभी भी अपने कुत्ते को बांध कर नहीं रखते हैं। वह पहले भी कई बार ग्रामीणों पर आरोप लगा चुका है और अन्य लोगों ने भी इस संबंध में अपनी आपत्ति जताई है।

कुमार 15 जुलाई को अपनी दो बेटियों और बेटे को स्कूल छोड़ने जा रहे थे, तभी कुत्ते ने बच्चों पर हमला कर दिया चंद ने कहा, "मेरे बेटे ने पड़ोसियों से कुत्ते को एक घंटे के लिए बांध कर रखने के लिए कहा, जब बच्चे स्कूल जाते हैं, या स्कूल से लौटते हैं।" उन्होंने आरोप लगाया कि तीखी बहस के बाद स्थिति तेजी से बढ़ गई और पड़ोसियों ने कुमार पर रॉड, लाठियों और धारदार हथियारों से हमला कर दिया। कुमार की शिकायत के आधार पर,प्राथमिकी दो महिलाओं समेत आठ लोगों के खिलाफ अलग-अलग धाराओं में मामला दर्जभारतीय दंड संहिता.