होम > क्राइम

पंजाब के कांग्रेस सरकार में रह चुके पूर्व डिप्टी सीएम ओपी सोनी से मांगी 20 लाख रुपये की रंगदारी

पंजाब के कांग्रेस सरकार में रह चुके पूर्व डिप्टी सीएम ओपी सोनी से मांगी 20 लाख रुपये की रंगदारी

बीते दिनों पूर्व विधायक अमरपाल सिंह बोनी को व्हाट्सएप कॉल आई थी। उनसे भी 2.5 लाख रुपये की रंगदारी मांगी गई थी। कुछ दिन पहले गैंगस्टरों ने पंजाब के ही पूर्व विधायक अमरपाल सिंह बोनी को व्हाट्सएप कॉल कर 20 लाख रुपये की रंगदारी मांगी है। उनसे 2.5 लाख रुपये की मांग की गई हैं। जसके बाद ही कैंटोनमेंट पुलिस सक्रीय हो गयी और अज्ञात लोगों के खिलाफ केस दर्ज करने के बाद साइबर क्राइम सेल ने मामले की जांच शुरू कर दी।

 

सूत्रों के मुताबिक आरोपीयों ने बुधवार की सुबह सोनी के व्हाट्सएप नंबर पर कॉल कर खुद को एक नामी गैंगस्टर बताया और 20 लाख रुपये की रंगदारी की रंगदारी देने की बात करते हुये ,इस बाबत पुलिस को शिकायत देने पर उन्हें उनके परिवार को नुकसान पहुंचाने की भी धमकी दी।

 

स्थानीय पुलिस ने अभी इस घटना की कोई कन्फर्मेशन तो नहीं की हैं लेकिन प्राप्त जानकारी की गंभीरता को देखते हुए केस दर्ज कर कमिश्नरेट पुलिस की  साइबर क्राइम सेल को सभी पहलू पर जाँच के आदेश दे दिया गया है, साइबर क्राइम सेल की टीम उपमुख्यमंत्री सोनी के पास जा कर व्हाट्सएप कॉल का डाटा निकालने में जुट गया हैं।उपरोक्त घटनाक्रम के ही तरह कुछ दिन पूर्व भी भूतपूर्व विधायक अमरपाल सिंह बोनी के मोबाइल पर भी इसी तरह की व्हाट्सएप कॉल आई थी।काल करने वाले ने खुद को गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई का गुर्गा बताया था और विधायक जी से 2.5 लाख रुपये की रंगदारी की मांग की थी, इस फोन कॉल के बाद रंजीत एवेन्यू थाना की पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ केस दर्ज कर मामले की जाँच शुरू की थी।

 

वर्तमान मुख्यमंत्री भगवंत मान ने VIPs की सुरक्षा कम कर दी थी जिसपर पूर्व डिप्टी सीएम ओम प्रकाश सोनी ने पंजाब एंड हरियाणा हाई कोर्ट में इसके तहत एक रिट पटीशन दायर की थी। इसी बीच सिद्धूमूसेवाला की हत्या कर दी गई जिसके बाद सरकार के द्वारा सभी की VIPs सुरक्षा को बहाल कर दिया गया था। इस धमकी के बाद अमृतसर कमिश्नरेट पुलिस की तरफ से ओम प्रकाश सोनी की सुरक्षा को बढ़ा दिया है।