होम > शिक्षा

क्यूएस रैंकिंग 2023 में छात्रों के लिए लंदन सर्वश्रेष्ठ शहर, मुंबई भारत में सबसे ऊपर

क्यूएस रैंकिंग 2023 में छात्रों के लिए लंदन सर्वश्रेष्ठ शहर, मुंबई भारत में सबसे ऊपर

भारत का सर्वोच्च रैंक वाला छात्र शहर मुंबई 103 वें स्थान पर है, जिसने सामर्थ्य के लिए स्कोर किया लेकिन छात्र मिश्रण और वांछनीयता के साथ संघर्ष किया। इसके बाद बैंगलोर 114वें स्थान पर है। चेन्नई और दिल्ली ने इस साल क्रमश: 125 और 129 की सूची में अपना नाम दर्ज़ किया है

क्यूएस बेस्ट स्टूडेंट सिटीज रैंकिंग 2023 में, यूनाइटेड किंगडम  की राजधानी लंदन ने अपना नाम प्रथम श्रेणी में दर्ज़ किया है जिसका कारण अन्य कारकों के बीच सामर्थ्य, छात्र सुविधाओं और विश्वविद्यालय के मानक , छात्रों की मूलभूत सुविधाए  को ध्यान में रखना आदि सर्वोपरि है इसी क्रम में  सियोल और म्यूनिख दूसरे  तीसरे स्थान पर हैं, उसके बाद ज्यूरिख और मेलबर्न क्रमशः चौथे और पांचवें स्थान पर अपनी जगह बनाने में सफल हुए है

भारत का सर्वोच्च रैंक वाला छात्र शहर मुंबई 103 वें स्थान पर है, जिसने सामर्थ्य के लिए स्कोर किया लेकिन छात्र मिश्रण और वांछनीयता के साथ संघर्ष किया। इसके बाद बेंगलुरु 114वें स्थान पर है। चेन्नई और दिल्ली ने इस साल क्रमश: 125 और 129 की सूची में अपनी प्रविष्टियां की हैं। QS बेस्ट स्टूडेंट सिटीज़ रैंकिंग छात्रों को उनके अध्ययन निर्णयों के लिए प्रासंगिक कारकों को दयँ में रखते हुए  स्वतंत्र डेटा प्रदान करती है: सामर्थ्य, जीवन की गुणवत्ता, विश्वविद्यालय का मानक और उस गंतव्य में अध्ययन करने वाले पिछले छात्रों के विचार आदि आते है , QS दुनिया भर के 140 शहरों में रैंक करता है। अरब क्षेत्र में सबसे अच्छा छात्र शहर दुबई है, जो विश्व स्तर पर 51 वें स्थान पर है। ब्यूनस आयर्स दुनिया में 23 वें स्थान पर है।

2018-19 के अनुसार, भारतीय विश्वविद्यालयों में नामांकित अंतरराष्ट्रीय छात्रों की संख्या सिर्फ 47,427 थी। भारत 2023 के अंत तक दो लाख अंतर्राष्ट्रीय छात्रों को आकर्षित करना चाहता है, जो वर्तमान योग से चार गुना से अधिक है, एक लक्ष्य जिसकी समीक्षा करने की जरूरतहै क्योंकि यह वैश्विक कोविड-19 महामारी से पहले निर्धारित किया गया था, जिसने अंतरराष्ट्रीय छात्रों की गतिशीलता को गहराई से प्रभावित किया है ,जिसे हम भली भांति जानते है

ram kumar