होम > शिक्षा

हरियाणा बोर्ड ने रोके 10वीं, 12वीं के रिजल्ट्स फर्जी एसएलसी प्रमाणपत्रों का है मामला

हरियाणा बोर्ड ने रोके 10वीं, 12वीं के रिजल्ट्स फर्जी एसएलसी प्रमाणपत्रों का है मामला

Haryana Education Board: हरियाणा एजुकेशन बोर्ड ने फर्जी स्कूल लीविंग सेर्टिफिकेट (SLC) की वजह से कुछ स्कूलों के कक्षा 10 और 12, 2022 का रिजल्ट रोक दिया है।

बीएसईएच (BSEH) चैयरमेन जगबीर सिंह और सेकेरेट्री कृष्ण कुमार ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में यह खुलासा किया कि हरियाणा के कई जिलों के स्कूलों का रिजल्ट फर्ज़ी स्कूल लीविंग सेर्टिफिकेट (SLC) की वजह से हरियाणा बोर्ड 10वीं व 12वीं का रिजल्ट 2022 रद्द कर दिया गया है।

साथ ही साथ डॉ. सिंह ने कहा कि जाँच में 10वीं के गैर-राज्य स्थायी-अस्थायी मान्यता प्राप्त स्कूलों के 778 छात्रों और 8 सरकारी स्कूलों के 14 छात्रों के एसएलसी प्रमाण पत्र फर्जी पाए गए हैं। जबकि 12वीं के 40 गैर-राज्य स्थायी-अस्थायी मान्यता प्राप्त स्कूलों के 73 छात्रों और 2 सरकारी स्कूलों के 2 छात्रों के एसएलसी प्रमाण पत्र फर्जी पाए गए। बोर्ड के अधिकारियों को हरियाणा व अन्य राज्यों के, राज्य और गैर-सरकारी स्थायी व अस्थायी मान्यता प्राप्त कक्षा 9 से 12 कक्षा के छात्रों के नामांकन वापस करने के साथ साथ एसएलसी और अपलोड किए गए प्रमाणपत्रों का फिजिकल वैरिफिकेशन कराने की भी जानकारी दी।

टीमों का गठन कर के झारखंड, राजस्थान, पंजाब, उत्तर प्रदेश,गुजरात, उत्तराखंड और केंद्र शासित प्रदेश चंडीगढ़ के विभिन्न राज्यों में भेजकर सत्यापन का काम मैन्युअल तरीके से किया गया था।

वहीँ मध्य प्रदेश, पश्चिम बंगाल, बिहार आदि के उम्मीदवारों के एसएलसी और प्रमाण पत्रों का वेरिफिकेशन ई-मेल के माध्यम से किया गया है।