होम > शिक्षा

केरल विश्वविद्यालय को NAAC से उच्चतम ग्रेडिंग प्राप्त हुई

केरल विश्वविद्यालय को NAAC से उच्चतम ग्रेडिंग प्राप्त हुई

आईये NAAC क्या है इसके बारे में जानना जरूरी है , राष्ट्रीय मूल्यांकन और प्रत्यायन परिषद (NAAC) की स्थापना 1994 में विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (UGC) के एक स्वायत्त संस्थान के रूप में हुई थी, जिसका मुख्यालय बेंगलुरु में  स्थित है। नैक का उद्देश्य  मुख्य रूप से  गुणवत्ता आश्वासन को उच्च शिक्षा संस्थानों के कामकाज का एक अभिन्न अंग बनाना है।

उच्च शिक्षा मंत्री आर बिंदू जी  ने कहा कि केरल विश्वविद्यालय ने NAAC की मान्यता में 3.67 ग्रेड अंकों के साथ A++ हासिल किया है। जो कि  गर्व का विषय है उच्च शिक्षा मंत्री आर बिंदू जी  ने मंगलवार को बताया कि केरल विश्वविद्यालय ने 3.67 के संचयी ग्रेड प्वाइंट औसत (सीजीपीए) के साथ ++ की उच्चतम एनएएसी ग्रेडिंग हासिल की है। यह विश्वविद्यालय की प्रतिस्पर्धात्मकता, रचनात्मक सोच, नवाचार आदि को दर्शाता है जिसके कारण इस विश्वविद्यालय ने यह मुकाम हासिल किया है

केरल विश्वविद्यालय ने अखिल भारतीय स्तर पर सर्वश्रेष्ठ ग्रेड हासिल किया है। गुणवत्ता में सुधार के प्रयासों में सक्रिय रूप से भाग लेकर केरल को शिक्षा के क्षेत्र में राष्ट्रीय नेता बनाने के लिए हम केरल विश्वविद्यालय समुदाय को तहे दिल से सलाम करते हैं।

केरल विश्वविद्यालय  का मिशन  कुछ इस तरह से है ,समग्र शिक्षा और सही कौशल के विकास के माध्यम से अकादमिक उत्कृष्टता के केंद्र के रूप में उभरने के लिए, उद्योग और नीति निर्माताओं की जरूरतों को पूरा करने वाले मूल अनुसंधान और नवीन सोच के केंद्र के रूप में पहचाने जाने के लिए एक पूर्ण विश्वविद्यालय-उद्योग गठजोड़ के माध्यम से विश्वविद्यालय की परामर्श सेवाओं को मजबूत करना।

ram kumar