होम > शिक्षा

SGPGIMS लखनऊ में नये संकाय खुलने के साथ ही B.Sc और M.Sc नर्सिंग की सीटों में होगी वृद्धि

SGPGIMS लखनऊ में नये संकाय खुलने के साथ ही B.Sc और M.Sc नर्सिंग की सीटों में होगी वृद्धि

Uttar Pradesh: संजय गांधी पोस्ट ग्रेजुएट इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज, एसजीपीजीआईएमएस लखनऊ क्षेत्र में स्वास्थ्य सेवाओं को बढ़ाने के लिये नए संकाय खोलेगा। साथ ही संस्थान का नर्सिंग कॉलेज भी बीएससी और एमएससी नर्सिंग पाठ्यक्रमों के लिए सीटों में वृद्धि करेगा। शासकीय मंजूरी भी  नए विभागों के लिए मिल गई है।


सिर और गर्दन की सर्जरी, बाल चिकित्सा एंडोक्रिनोलॉजी, संक्रामक रोग और वैक्सीन अनुसंधान के लिए नए विभाग खुलेंगे। सिर और गर्दन के 21 प्रतिशत मामले कैंसर से संबंधित रिपोर्ट किये गये है, संस्थान को एक संगठित तरीके से देखभाल और उपचार में सुधार की उम्मीद है।

निदेशक एसजीपीजीआईएमएस प्रोफेसर राधा कृष्ण धीमान ने भी दोहराया कि गले के कैंसर, बाल चिकित्सा जटिलताओं और हाल ही में कोविड महामारी की घटना को देखते हुए नए विभाग महत्वपूर्ण हैं।

एसजीपीजीआईएमएस ने 2001 में बाल चिकित्सा एंडोक्रिनोलॉजी में पहला औपचारिक (FORMAL) प्रशिक्षण कार्यक्रम शुरू किया था। अब विभाग के निर्माण के बाद, मधुमेह, मोटापा, थायराइड और बच्चों बीमारियों का इलाज अब अच्छी तरह से किया जा सकता है। 

उन्होंने संक्रामक रोग विभाग के बारे में बात करते हुए कहा कि Covid -19 के बाद नए विभागों की आवश्यकता थी। SGPGIMS में नया विभाग विशेष रूप से इस क्षेत्र में स्वाइन फ्लू, जापानी इंसेफेलाइटिस, वायरल हेपेटाइटिस और कोरोना जैसे संक्रामक रोगों से निपटेगा।

इन विभागों के अलावा, SGPGIMS कॉलेज ऑफ नर्सिंग को भी विभिन्न विभागों में नए पाठ्यक्रमों के लिए अनुमति मिल गई है। कॉलेज में बीएससी और एमएससी नर्सिंग सीटों की संख्या बढ़ाने के लिए भी कदम उठाया गया है।