होम > मनोरंजन > यात्रा

अरुणाचल प्रदेश में स्थित दिबांग घाटी का सुन्दर नजारा

अरुणाचल प्रदेश में स्थित दिबांग घाटी का सुन्दर नजारा

दिबांग घाटी अरुणाचल प्रदेश के पूर्वी पहाड़ी क्षेत्र में स्थित है। इस क्षेत्र का नाम दिबांग नदी पर ही पड़ा है। यह क्षेत्र विशाल हिमालय पर्वत की श्रंखला मे स्थित है। इसकी उत्तरी एवं पूर्वी की पर्वत श्रृंखलाएं तिब्बत की सीमा से लगती हैं। मिशमी पहाड़ियाँ हिमालय का दक्षिणवर्ती हिंसा है इस क्षेत्र का अधिकतम उत्तरी हिस्सा घेरती हैं। इनकी औसत ऊंचाई 4,500 मीटर है। योंग्याप और काया जैसे दर्रें यहां मिलते हैं।

दिबांग नदी अरुणाचल प्रदेश के पहाड़ों में निकलती है और घाटियो के मध्य से बहती हुई यह मैदानों में गिरती है। अहुई, एभ्रा, अदूजोन और दट्री जल धाराओं के साथ दिबांग नदी दक्षिण की ओर बहती है और ब्रह्मपुत्र नदी में जा मिलती है।

दिबांग घाटी प्राकृतिक संसाधनों से भरपूर आसपास की पहाड़ियाँ अत्यंत मनमोहक और सुन्दर दृश्य प्रस्तुत करते है। यहाँ देख कर ऐसा लगता है की प्रकृति ने अपनी सारी वैभव का खजाना बिखेर दिया है। प्रकृति प्रेमियों के लिए यह स्थान उपयुक्त है। आपको पहाड़, झरने, हरियाली, वादियां, नदियां और चट्टानें देखने को मिल जायेगे। यहाँ की हरी-भरी पहाड़ियाँ वनों में दुर्लभ जीव-जंतुओं की प्रजातियां देखने को मिल जायेगे।

मिशमी, मिजू, इदू, खामती और सिंगफो जनजातियाँ इस इलाके में निवास करती हैं।