होम > मनोरंजन > यात्रा

भगवान लक्ष्मी नारायण का मंदिर हज़ारीबाग़

भगवान लक्ष्मी नारायण का मंदिर हज़ारीबाग़

भगवान लक्ष्मी नारायण का मंदिर हज़ारीबाग़

हजारीबाग में भगवान लक्ष्मी नारायण का एक प्रसिद्ध मंदिर है। ये मंदिर लक्ष्मी नारायण को समर्पित है। यह मुख्य बाज़ार में बंशीधर मन्दिर स्थित है। यहाँ रोज़ सुबह शाम होने वाली आरती की घंट ध्वनिं मनमोहक होती है। यहाँ प्रति वर्ष जन्माष्टमी के अवसर पर कृष्ण जन्मउत्सव धूम धाम से मनाया जाता  है। मंदिर में श्री राधा-कृष्ण की झांकियां सजाई जाती हैं।

यहाँ पर जन्माष्टमी की रात कभी कृष्णा की  बांसुरी बजती थी,  जिसको सुनने के लिए राजा और प्रजा रातभर जागरण करते थे। यहाँ दो ठाकुरबाड़ी (बड़ा अखाड़ा एवं छोटा अखाड़ा) भी स्थित है।  इस मंदिर में पूरे वर्ष इसी तरह श्रद्धालु आते रहते हैं यहां ऐसी आस्था है कि जो भक्त सच्चे मन प्रार्थना करता है उसकी मनोकामना अवश्य पूरी होती है। फिलहाल मंदिर की देख रेख व पूजा पुरोहित के अलावा स्थानीय लोगों के भरोसे चल रही है।

हजारीबाग जिले कैसे पहुंचे ?

हवाई मार्ग द्वारा :-  हजारीबाग जिले का अपना हवाई अड्डा नहीं है। यहाँ के लिएकोई सीधी हवाई सुविधाएं उपलब्ध नहीं है। निकटतम हवाई अड्डा:बिरसा मुंडा एयरपोर्ट ,रांची है, यह हवाई अड्डा हजारीबाग जिले से लगभग 100 किलोमीटर की दूरी पर राजधानी रांची में स्थित है। 

रेल मार्ग द्वारा :-  रेल मार्ग से आप आसानी से हजारीबाग आ सकते हैं। हजारीबाग रेल मार्ग से देश के अन्य भागों से जुड़ा हुआ है। देश के अन्य प्रमुख शहरों से हजारीबाग के लिए नियमित ट्रेन चलती है। नजदीकी रेलवे स्टेशन: हजारीबाग रेलवे स्टेशन है। 

सड़क मार्ग द्वारा :-  सड़कों माध्यम से हजारीबाग राज्य और देश के प्रमुख शहरों से अच्छे से जुड़ा हुआ है। राजधानी रांची और  पटना से हजारीबाग के लिए अनियमित बस सुविधाएं उपलब्ध हैं। 

आप यहां अपने निजी वाहन कार या बाइक से भी आ सकते हैं।