होम > मनोरंजन > यात्रा

नागफनजी मंदिर डूंगरपुर जिला

नागफनजी मंदिर डूंगरपुर जिला

डूंगरपुर जिला राजस्थान अपने प्राकृतिक और सांस्कृतिक धरोहरों से परिपूर्ण विश्व स्तरीय पर्यटन स्थलों में से एक है। डूंगरपुर में बारह महीनों जल से लबालब रहने वाली गेपसागर झील की नैसर्गिक सौंदर्य से लोग खींचे चले आते है। 

डूंगरपुर अपने जैन मंदिरों के लिए प्रसिद्ध है। मन्दिर में मूलनायक प्रतिमा पार्श्वनाथ भगावन की है। इस मन्दिर में आस्था जैन अनुयायियों की है। मंदिर में देवी पद्मावती, नागफनजी पार्श्वाननाथ और धरनेन्द्र की एक जुड़ी हुई मूर्ति स्थित है। डूंगरपुर में पास में स्थित नागफणजी शिवालय भी भारी संख्या में पर्यटकों को अपनी तरफ आकर्षित करता है। यह क्षेत्र पहाड़ी से घिरे होने के कारण रमणीय स्थान है। इस नागफणजीजैन मंदिरों की प्राकृतिक सौन्दर्य अद्भुत है। 

मन्दिर में दर्शन का समय:-  सुबह 7 बजे से शाम 7 बजे तक का है।

डूंगरपुर राजस्थान घूमने कैसे पहुंचे ?

हवाई मार्ग द्वारा :- डूंगरपुर शहरों के लिए कोई नियमित उड़ानें नहीं हैं। डूंगरपुर का निकटतम हवाई अड्डा महाराणा प्रताप हवाई अड्डा है,जो उदयपुर में 88 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है।

रेलवे मार्ग द्वारा :-  डूंगरपुर रेलवे स्टेशन, मुख्य शहर से लगभग 3 किमी की दूरी पर स्थित है, जो डूंगरपुर के लिए नियमित ट्रेनों के माध्यम से देश के अन्य छोटे और प्रमुख शहरों से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है। दूसरा निकटतम रेलवे स्टेशन  उदयपुर जो 82 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। 

सड़क मार्ग द्वारा :- आप डूंगरपुर के लिए सड़क मार्ग द्वारा यात्रा कर सकते हैं। राज्य राजमार्ग देश के प्रमुख शहरों से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है। राजस्थान के सभी प्रमुख छोटे शहरों से डूंगरपुर के लिए बस उपलब्ध है।